गिरी गाज – दुर्व्यवहार के चलते मुख्य आरक्षी लाइन हाजिर

 

अल्पसंख्यक आयोग ने मामले का लिया संज्ञान 

गाजीपुर। मुहम्मदाबाद कोतवाली क्षेत्र के भट्टी निवासी मु. मोहज्जब के आवेदन को ध्यान में रखते हुए अल्पसंख्यक आयोग उत्तर प्रदेश ने पुलिस अधीक्षक गाजीपुर को सारे तथ्यों से अवगत कराते हुए, प्रकरण की जांच कराकर आख्या रिपोर्ट के साथ क्षेत्राधिकारी व आरोपी मुख्य आरक्षी को आयोग के समक्ष उपस्थित होने हेतु निर्देशित किया है। 

      मामले को लेकर पुलिस महकमा अलर्ट मोड पर आ गया है। आयोग के निर्देश पर मु. मोहज्जब ने आरोपी के विरुद्ध, अपना बयान क्षेत्राधिकारी मुहम्मदाबाद के यहां दर्ज कराया है। कार्रवाई आरम्भ होने पर आरोपी महेंद्र तिवारी के लोग अब बेजा दबाव बनाकर मामले में जबरन अपने मनमाफिक सुलहनामा के लिए बेवजह दबाव बना रहे हैं।

        उल्लेखनीय है कि मुहम्मदाबाद चौकी पर कार्यरत मुख्य आरक्षी महेंद्र तिवारी गत तीस मई को भट्ठी निवासी तसौवर को अपनी मोटरसाइकिल पर बैठाकर मुहम्मदाबाद कोतवाली ले गये। इस पर वहां मौजूद मु. मोहज्जब इसकी जानकारी लेने कोतवाली पहुंच कर जब कोतवाल से जानकारी चाही तो उन्होंने अनभिज्ञता जताई। उन्होंने कहा कि वह दिवान महेंद्र तिवारी से इसकी जानकारी लेंगे। 

        कोतवाली से निकलते समय मुख्य आरक्षी महेंद्र तिवारी मु. मोहज्जब से भिड़ गये और गाली गलौज देते हुए मामले से दूर रहने की चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि तुमको अवैध असलहे व हेरोइन के फर्जी मुकदमें में फंसाकर जेल भेजकर तुम्हारी सारी जिन्दगी बर्बाद कर दूंगा। इसी प्रकार दो जून को भी उसने आवेदनकर्ता को रोककर फर्जी मुकदमें में जेल भेजने की चेतावनी दी थी।

         परेशान होकर मु. मोहज्जब ने अल्पसंख्यक आयोग तथा पुलिस अधीक्षक को आवेदन देकर कार्रवाई की मांग की थी। 

      पुलिस अधीक्षक ओमवीर सिंह ने थाना मुहम्मदाबाद के मुख्य आरक्षी महेंद्र तिवारी को दिनाँक 09.06.24 को जनता से दुर्व्यवहार के कारण तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर किया है। उनके विरुद्ध विभागीय कार्यवाही आरंभ की गयी है।

Views: 184

Leave a Reply