परिवार परामर्श केंद्र के सहयोग से चार परिवारों की हुई विदाई 

गाजीपुर। पुलिस लाइन में  संचालित परिवार परामर्श केंद्र में कुल 13 पारिवारिक विवाद प्रस्तुत हुए। इसमें से परामर्श केंद्र के सहयोग से चार परिवारों की हुई विदाई कराई गई।

        उल्लेखित प्रकरण सावित्री देवी पत्नी अभिषेक राजभर निवासी होलपुर थाना उभाव जनपद बलिया की शिकायत थी कि उसके पति दहेज के लिए उसके साथ मारपीट करते रहते हैं। इस पर पति को समझा कर विदाई करवाई गई। सुमन देवी पत्नी उपेंद्र निषाद निवासी आम घाट थाना रसड़ा जनपद बलिया की शिकायत थी कि उसके पति उसके चचेरे भाई के साथ गलत संबंध की शंका करते रहते हैं जब वह विरोध करती है तब उसके साथ मारपीट करते  हैं, इस पर पति को समझा कर विदाई करवाई गई‌। मनसा चौरसिया पत्नी त्रिवेणी चौरसिया निवासी कटघरा थाना शादियाबाद गाजीपुर की शिकायत थी कि उसके मायके पक्ष के लोग पर्याप्त मात्रा में दहेज दिए थे इसके बाद भी उसके ससुराल पक्ष के लोग संतुष्ट नहीं हैं और दहेज के लिए उसके साथ मारपीट करते हैं, इस पर पति और ससुराल पक्ष के लोगों को समझा कर विदाई करवाई गई। रीमा देवी पत्नी सागर कुमार निवासी अकराव थाना शादियाबाद गाजीपुर की शिकायत थी कि जब भी वह मायके से विदा होकर ससुराल जाती है उस समय उसके पति उससे दूरी बनाए रखते हैं, पति को समझाने का प्रयास की लेकिन वह मानने के लिए तैयार नहीं थे। इस पर पति व ससुराल पक्ष के लोगों को समझाकर विदाई करवाई गई। कुशलता के बाद सात पारिवारिक विवाद बंद कर दिए गए, वहीं दो पारिवारिक विवाद को विधिक कार्रवाई का सुझाव देते हुए बंद कर दिया गया। अत्यधिक धूप के कारण शेष पारिवारिक विवाद के प्रकरण में दोनों पक्ष उपस्थित नहीं थे। सभी प्रकरण के निस्तारण में महिला प्रकोष्ठ प्रभारी नीतू मिश्रा, उप निरीक्षक शशी धर मिश्रा, महिला आरक्षी रागनी चौबे, प्रांतीय रक्षक दल साधना कुशवाहा, आरक्षी शिव शंकर यादव, सदस्य विक्रमादित्य मिश्र, सरिता गुप्ता, सोनिया सिंह, वीरेंद्र नाथ राम आदि लोग प्रमुख रहे।

Views: 37

Leave a Reply