केन्द्रीय शिक्षा राज्य मंत्री ने की सरकार के सर्वाेच्च प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों की प्रगति की समीक्षा

गाजीपुर। शिक्षा राज्य मंत्री भारत सरकार श्रीमती अन्नपूर्णा देवी ने रविवार को विकास भवन सभागार मे भारत सरकार एवं उत्तर प्रदेश सरकार के सर्वाेच्च प्राथमिकता कार्यक्रमों की प्रगति की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिया कि केन्द्र एंव राज्य सरकार द्वारा संचालित महत्तपूर्ण योजनाएं पात्र लोगों को हर हाल में लाभकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त होना चाहिए। इसमें किसी स्तर की लापरवारी क्षम्य नही होगी,क्योंकि सरकार की मंशा है कि समाज में निचने पायदान पर रहने हर एक प्रत्येक नागरिक को सरकार की योजनाओं का लाभ मिल सके और वह अपना जीवन सुख पूर्वक व्यतीत कर सके।
उन्होंने कहा कि स्कूल चलो अभियान के तहत कोई भी बच्चा स्कूल जाने से वंचित न रहे,यदि कोई बच्चा स्कूल न आ रहा है तो उनके अभिभावक से मिल कर उसे स्कूल आने के प्रति प्रेरित करें। अधिशासी अभियन्ता पी एम जी एस वाई के द्वारा बैठक में प्रतिभाग न करने के कारण सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्यवाही हेतु शासन को पत्र लिखने का निर्देश दिया। बैठक में उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण/शहरी), राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, मनरेगा, सामुदायिक शौचालय, पंचायत भवन निर्माण की स्थिति, आयुष्मान योजना, प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना, कोविड-19 टीकाकरण, हेल्थ एण्ड वेलनस सेन्टर, स्कूल चलो अभियान एवं डेस वितरण, आपरेशन कायाकल्प, पोशण अभियान, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, निराश्रित गोवंश संरक्षण, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, जन धन योजना, मुद्रा योजना, आर्दश ग्राम योजना, रोजगार श्रृजन, पेयजल मिशन, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा, उज्ज्वाला योजना, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न्न योजना, मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना, पेंशन योजनाएं, राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना, वन स्टाप सेन्टर, कन्या सुमंगला योजना, स्वच्छ भारत मिशन, पी एम स्वनिधि योजना, प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना, प्रधानमंत्री/मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार सृजन योजना, इसके अतिरिक्त जनपद में चलाई जा रही 10 करोड़ से अधिक की परियोजनाओं समीक्षा की । समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी एम पी सिंह ने विस्तृत जानकारी देते हुए जनपद में प्राप्त लक्ष्य के सापेक्ष कराये गये निर्माण कार्य एव पात्र लाभार्थियों में योजनाओं के वितरित लाभों के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी। बैठक में प्रभुनाथ चौहान, उपाध्यक्ष पिछड़ावर्ग आयोग उ.प्र., मनोहर लाल कोरी राज्य मंत्री श्रम प्रवर्तन उत्तर प्रदेश, विशाल सिंह चंचल सदस्य विधान परिषद, सपना सिंह अध्यक्ष जिला पंचायत, पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह, मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रकाश गुप्ता एवं अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।


Hits: 98

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: