शिक्षकों का वेतन भुगतान और पितृ विसर्जन पर अवकाश घोषित करने की मांग 

गाजीपुर। माध्यमिक शिक्षक संघ जिला इकाई का प्रतिनिधि मंडल प्रादेशिक मंत्री चौधरी दिनेश चंद्र राय के नेतृत्व में, अपनी समस्याओं को लेकर शुक्रवार को जिलाधिकारी से मिला। 

             प्रादेशिक मंत्री चौधरी दिनेश चंद्र राय ने डीएम के निर्देश के बावजूद शिक्षकों की समस्याओं का समाधान नहीं होने पर आक्रोश व्यक्त किया। पदाधिकारियों का कहना था कि जिलाधिकारी ने अक्टूबर के प्रथम सप्ताह में जिला विद्यालय निरीक्षक व अन्य अधिकारियों के साथ बैठक कराने की बात कही थी, लेकिन अब तक कोई वार्ता नहीं हो सकी। अध्यापकों व कर्मचारियों की समस्याओं में वेतन, अवशेष धनराशि, प्रोन्नत वेतनमान व चयन वेतनमान, स्थानान्तरण की प्रक्रिया, नई पेंशन योजना में सरकार का 14 प्रतिशत अंशदान व अध्यापकों के वेतन से 10 प्रतिशत की धनराशि उनके प्रान खाते में नहीं भेजी जा रही है। आयोग से चयनित अध्यापकों के नियुक्ति आदि में जिला विद्यालय निरीक्षक व लेखाधिकारी कार्यालय के बाबूओं द्वारा धन वसूली की जा रही है। सुविधा शुल्क नहीं देने पर अध्यापकों का शोषण किया जा रहा है। विभागीय अधिकारी शिक्षक प्रतिनिधियों का फोन भी रिसिव नहीं करते हैं।

       जिलाध्यक्ष शिवकुमार सिंह ने कहा कि पितृ विसर्जन अमावस्या के दिन हिन्दू समाज के लोग शास्त्रानुसार अपने पितरों का श्राद्ध कार्यक्रम करते हैं। ऐसे अवसर पर पूर्व में परिषदीय विद्यालयों/ माध्यमिक विद्यालयों में विभाग द्वारा अवकाश घोषित किये जाते रहे हैं। विगत वर्ष विभाग द्वारा घोषित अवकाश तालिका में पितृ विसर्जन के अवसर पर अवकाश घोषित नहीं हो रहा है। उन्होंने तत्काल अवकाश घोषित कराने की मांग की है। उधर महावीर इंटर कालेज मलिकपुरा के चार शिक्षकों का वेतन भुगतान के आदेश के बावजूद जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा अब तक नहीं किया जा रहा है। चार अध्यापकों का वेतन माह जुलाई व अगस्त का भुगतान अब तक नहीं हुआ। भुगतान न होने की स्थिति में शिक्षकों की आर्थिक स्थिति खराब हो रही है। इंटर कॉलेज भुडकुंडा के शिक्षकों का भी भुगतान नहीं होने पर आक्रोश व्यक्त किया गया। प्रतिनिधिमंडल में प्रकाश चन्द्र दुबे, राणा प्रताप सिंह, सूर्य प्रकाश राय, कुंवर अविनाश गौतम, डा. रियाज अहमद, रत्नेश कुमार राय, अमित कुमार राय, विवेकानंद गिरी, अंजनी कुमार सिंह, शैलेन्द्र कुमार यादव आदि मौजूद रहे।

Views: 334

Leave a Reply