राज्यपाल व केन्द्रीय मंत्री का अपने गृह जनपद में हुआ भव्य स्वागत

गाजीपुर,31 अगस्त 2019। हिमांचल प्रदेश के राज्यपाल महामहिम कलराज मिश्रा व केन्द्रीय कौशल विकास व उद्यमिता मंत्री भारत सरकार डा. महेन्द्र नाथ पांडेय का आज अपने गृह जनपद पहुंचने पर भव्य स्वागत किया गया। जिले की सीमा मे प्रवेश करते ही सिधौना बाजार में भाजपा नेताओं तथा क्षेत्रीय जनता ने माल्यार्पण कर व पुष्पगुच्छ देकर भारी जोश व नारेबाजी के बीच अपने प्रिय नेताओं का भव्य स्वागत अभिनन्दन भाजपा जिलाध्यक्ष भानुप्रताप सिंह के नेतृत्व में किया गया।

इसके उपरांत हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल बनने के बाद अपने क्षेत्र में पहली बार आगमन होने पर सैदपुर के टाउन नेशनल इंटर कॉलेज में आयोजित नागरिक अभिनंदन कार्यक्रम में क्षेत्रवासियों ने कलराज मिश्र का जोरदार ढंग से स्वागत किया। वहां गार्ड ऑफ ऑनर लेने के बाद महामहिम विद्यालय परिसर में आयोजित नागरिक अभिनंदन कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री डॉ महेंद्र नाथ पांडेय के साथ पहुंचे, जहां कार्यक्रम में पूर्व केन्द्रीय मंत्री मनोज सिन्हा मौजूद रहे। कार्यक्रम में आए लगभग सभी लोगों से परिचित कलराज मिश्र बेहद आत्मीयता से सबका अभिवादन स्वीकार करते रहे। वहां सरस्वती शिशु मंदिर की छात्राओं ने वंदे मातरम गीत प्रस्तुत कर समारोह में शमां बांध दी।
सभा को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री मनोज
सिन्हा ने कहा कि यह सबके लिए सौभाग्य और गौरव का विषय है, कि गाजीपुर जनपद के सैदपुर क्षेत्र निवासी वरिष्ठ पार्टी कार्यकर्ता रहे कलराज मिश्र को हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल बनाया गया है। कहा श्री मिश्र ने लंबे समय तक देश व प्रदेश की राजनीति को दिशा दिया है। लोक निर्माण मंत्री रहतेहुए श्री मिश्र ने प्रदेश में जो विकास काम किया है, उसे सदैव याद किया जाएगा। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि कलराज मिश्र ने अपने राजनीतिक सफर के दौरान योग्यतावान पार्टी कार्यकर्ताओं को सदैव पार्टी में ऊपर तक पहुंचाने का काम किया है। मैंने भी श्री मिश्र के सानिध्य में ही अपने राजनीतिक जीवन की यात्रा शुरू की थी। जो आज उनके स्नेह और आशीर्वाद से चल रही है। श्री मिश्र के हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल बनने से पूर्वांचल के लोगों सहित हम खुद को भी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। लोगों की स्नेह और प्यार से अभिभूत महामहिम कलराज मिश्र ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मैं यहां खुद के लिए आयोजित अभिनंदन समारोह में नहीं, बल्कि अपने क्षेत्र व जनपद के लोगों और उसकी माटी का अभिनंदन करने आया हूं। जिस से प्राप्त संस्कारों की बदौलत आज मैं इस मुकाम पर खड़ा हूं। संघ से राजनीतिक जीवन की शुरुआत करते हुए राज्यपाल बनने तक, संघ और पार्टी ने मुझे जो जिम्मेदारी दीया मैंने पूरी निष्ठा और समर्पण भाव से उसे निभाया है। अब मैं राजनैतिक नहीं रहा लेकिन जब तक राजनीतिक जीवन में रहा पार्टी और संगठन के लिए पूरी ईमानदारी से काम करता रहा। अब मेरी जिम्मेदारी दूसरे रूप में है, जहां मुझे संवैधानिक सीमाओं के अंदर सभी को एक समान भाव से जोड़ कर चलना है। कार्यक्रम में आई क्षेत्रवासियों के स्नेह और प्यार से मैं अभिभूत हूं। मैं अपने बड़े बुजुर्गों, सहपाठियों,क्षेत्रवासियों और इस मिट्टी का सदैव ऋणी रहूंगा, जिसके संस्कारों ने सदैव मुझे राह दिखाया है। राजनीतिक जीवन में वैचारिक मतभेद होते हैं,
लेकिन जो इससे इतर व्यक्तिगत रूप से एक दूसरे के प्रति मन भेद रखते हैं, वह राजनीति को सही दिशा नहीं दे पाते। इससे प्रतिशोधात्मक राजनीति काजन्म होता है, जो बेहद खतरनाक है। मुझे गर्व है अपने माटी के संस्कार पर,मैं इसे कभी नहीं भुला सकता है। कार्यक्रम के अंत में महामहिम कलराज मिश्र के सहपाठी और कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे साहित्यकार रामजी सिंह उदयन ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया। राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम की समाप्ति हुई। जिसके पश्चात कलराज मिश्र का काफिला नगर स्थित दीनदयाल उपाध्याय की मूर्ति के पास पहुंचा। जहां उन्होंने पंडित दीनदयाल उपाध्याय की मूर्ति पर माल्यार्पण किया। इसके पश्चात वह पूजा और भोज कार्यक्रम मेंशामिल होने के लिए अपने पैतृक गांव मलिकपुर को रवाना हो गए।
कार्यक्रम में मोहम्दाबाद की विधायक अलका राय, एमएलसी विशाल सिंह चंचल,कार्यक्रम संयोजक रामतेज पांडे व नवीन अग्रवाल, भारतीय जनता पार्टी
जिला अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह, प्रभुनाथ चौहान, नगरपालिका अध्यक्ष सरिता अग्रवाल,रामनरेश कुशवाहा, ओमप्रकाश राय,विजय शंकर राय,जितेन्द्र पांडेय,नरेन्द्र सिंह, वृजनन्दन सिंह,अच्छे लाल गुप्ता, विनोद अग्रवाल,सुमित तिवारी ,परिक्षित सिंह,योगेश सिंह,रघुवंश सिंह, शशिकान्त शर्मा,चतुर्भुज चौबे, बालकृष्ण त्रिवेदी,रिद्धि नाथ पांडेय,रासबिहारी राय, मुराहू राजभर,सुरेश बिंद,भैयालाल तिवारी,दीपू गुप्ता,विवेकानंद पांडेय, अशोक पांडेय,सिंहासन कुशवाहा सहित आदि अन्य लोग उपस्थित रहे। विजय यादव, पंकज अग्रवाल, त्रिभुवन नाथ पांडेय, अविनाश बरनवाल, संजय वर्मा, देवव्रत चौबे, डॉ मुकेश सिंह, विजेंद्र राय, अनुराग जायसवाल, राधेश्याम मोदनवाल सहित काफी संख्या में गणमान्यजन उपस्थित रहे।

Hits: 62

Author: Dr. A. K Rai

Leave a Reply