भव्य कन्या पूजन के साथ मनाया गया नवरात्रि महोत्सव

गाजीपुर। शारदीय नवरात्रि के अंतिम दिन महानवमी पर श्रद्धालुओं ने सिद्धपीठ हथियाराम मठ में सोमवार को बुढ़िया माता और मां सिद्धिदात्री की पूजा आराधना कर सुख-समृद्धि की कामना किया।  इस अवसर पर मठ परिसर में भव्य कन्या पूजन का आयोजन विगत वर्षों की भांति इस वर्ष भी सम्पन्न हुआ।                    

        मठ के पीठाधिपति महामंडलेश्वर स्वामी श्री भवानी नंदन यति महाराज के निर्देशन में मुख्य यजमान ने देवी रूप में मौजूद क्षेत्र के साथ ही कन्या पीजी कालेज हथियाराम की सैकड़ों छात्राओं का पैर धोकर उन्हें आसन दिया, इसके उपरान्त चंदन, अक्षत से तिलक लगाकर अंगवस्त्रम प्रदान कर उन्हें भोजन ग्रहण कराकर यथा सामर्थ्य दान-दक्षिणा दिया गया। अन्त में कन्याओं के पैर छूकर उनका आशीर्वाद प्राप्त करते हुए उन्हें विदा किया। 

        महामंडलेश्वर स्वामी भवानी नंदन यति ने कन्या पूजन और महानवमी के महात्म्य पर प्रकाश डालते हुए शिष्य श्रद्धालुओं को आशीर्वाद दिया। उन्होंने कहा कि इस दिन कन्याओं को भोजन कराने से घर में सुख, शांति और सम्पन्नता आती है। ऐसा करने से जातक को कभी धन की कमी नहीं होती।  उन्होंने चिंता और चिता में बिंदी मात्र का फर्क बताते हुए अपने जीवन में भगवत चिंतन करने का आह्वान किया। कन्या महाविद्यालय हथियाराम के प्राचार्य डा. रत्नाकर त्रिपाठी ने कन्या पूजन के महत्व पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर कालेज परिवार की शिक्षिकाएं, गणमान्यजन और संतगण उपस्थित रहे। अंत में श्रद्धालुओं ने पुण्य लाभ की कामना संग भंडारा से महाप्रसाद ग्रहण किया। 

Views: 51

Leave a Reply