परमवीर चक्र विजेता अब्दुल हमीद का 58 वां शहादत दिवस सम्पन्न 

गाज़ीपुर। परमवीर चक्र विजेता वीर अब्दुल हमीद का शहीदी दिवस उनके पैतृक गांव धामूपूर में स्थित शहीद स्मारक में मनाया गया। वक्ताओं ने उनसे प्रेरणा लेकर राष्ट्रहित में कार्य करने की सीख दी।

     अब्दुल हमीद ने वर्ष 1965 के भारत पाक युद्ध में पाकिस्तानी सेना के अमेरिकी पैटर्न टैंक को धराशाई कर नया इतिहास रच दिया। युद्ध क्षेत्र में ही वे पाकिस्तानी सेना का निशाना बन वीरगति को प्राप्त हो गये थे।ज्ञ उनकी बहादुरी को देखते हुए मृत्योपरान्त उन्हें भारत सरकार ने सेना के सर्वोच्च सम्मान परमवीर चक्र से सम्मानित किया था। 

      वे जनपद के जखनियां तहसील के दुल्‍लहपुर क्षेत्र के धामुपुर गांव के निवासी थे। शहीद दिवस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व राज्य मंत्री वक्फ हज अध्यक्ष मोहसिन रजा ,ज़िला पंचायत अध्यक्ष सपना सिंह, जखनिया विधायक वेदी राम, उपजिलाधिकारी कमलेश कुमार सिंह, खंड विकास अधिकारी त्रिवेणी राम , ग्राम सचिव राजकमल गौरव, सरवन सिंह, ,सिटी हड्डी अस्पताल मऊ के डाइरेक्टर डॉ केपी सिंह ,समाजसेवी अनिकेत चौहान सहित अन्य लोगों ने शहीद अब्दुल हमीद व उनकी पत्नी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की। 

39 जीआरसी की तरफ से बिरगेडिय राजीव नारायण विशिष्ट सेवा मेडल  एवं कर्नल कुमार मनोज सिंह व अन्य सेना के अधिकारी मौके पर उपस्थित रहे। उन्होंने शहीद की प्रतिमा पर सलामी देते हुए माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित किया।

      कार्यक्रम के आयोजक वीर अब्दुल हमीद के पुत्र जैनुल हसन और उनके पौत्र परवेज आलम आभार ज्ञापन किया गया।

Views: 110

Leave a Reply