पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का रास्ता यूपी से निकलता है

लखनऊ,28 जुलाई 2019। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज यहां इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में दूसरी ‘ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी’ में 65 हजार करोड़ रुपये की 250 से अधिक परियोजनाओं का शिलान्यास किया।
अपने सम्बोधन में उन्होंने कहा कि जिस तरह देश के प्रधानमंत्री बनने का रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर जाता है, उसी तरह भारत को पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का रास्ता भी उत्तर प्रदेश से ही होकर जाता है।मुख्यमंत्री योगी की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा, निष्ठा और परिश्रम करने की क्षमता के मानकों के आधार पर उत्तर प्रदेश का भविष्य भाजपा ने योगी आदित्यनाथ के हाथ सौंपा था। प्रदेश की 22 करोड़ जनसंख्या में योगी ने यह आत्मविश्वास जगाने का काम किया कि उत्तर प्रदेश भी देश में सर्वोत्तम प्रदेश बन सकता है। पिछली सरकारों में देश को सबसे बड़ा प्रदेश, सबसे ज्यादा आबादी वाला प्रदेश, सबसे ज्यादा संसाधनों वाला प्रदेश, सबसे ज्यादा पानी की उपलब्धता वाला प्रदेश और सबसे ज्यादा क्षमता वाला प्रदेश बुरी तहर से बिखरा पड़ा था।योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में यह प्रदेश निरन्तर प्रगति कर रहा है। गृहमंत्री ने कहा कि फरवरी 2018 में जब चार लाख 68 हजार करोड़ रुपये निवेश के, लगभग 1,000 से अधिक के एमओयू हुए तो मुझे बहुत खुशी हुई कि उत्तर प्रदेश के अंदर एक नई शुरुआत हुई है और अब देश के सबसे बड़े प्रदेश के अंदर आर्थिक गतिविधियां बढ़ेंगी।

इस अवसर पर गृहमंत्री अमित शाह का स्वागत करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2017 में प्रदेश में भाजपा की सरकार आने के बाद यूपी का माहौल बदलना शुरू हुआ।
हमें फरवरी 2018 में इंवेस्टर्स समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मार्गदर्शन मिला। जिसके बाद हम सिर्फ पांच महीने में 61 हजार करोड़ के प्रोजेक्ट को धरातल पर उतारने में सफल हुए।
मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 2017 में अमित शाह के नेतृत्व में भाजपा का विजन डाक्यूमेंट जारी किया गया था।
उसी को मंत्र मानकर हमने काम शुरू किया और आज यूपी देश का सबसे बड़ा निर्यातक राज्य बन गया है।

Hits: 30

Author: Dr. A. K Rai

Leave a Reply