मानसिक रोगों से बचाव हेतु चिकित्सकीय सलाह आवश्यक 

गाज़ीपुर। राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सादात पर शनिवार को मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता शिविर आयोजित सम्पन्न हुआ।

        कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष बृजेंद्र राय, प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ रामजी सिंह, भीमापार के चिकित्सक डा. दिनेश कुमार गुप्ता ने संयुक्त रूप से फीता काटकर किया।

      मुख्य अतिथि बृजेंद्र राय ने लोगों को मानसिक रोगों के प्रति जागरूक होने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि भौतिकतावादी प्रधानता के कारण प्रत्येक घर में कोई ना कोई मानसिक तनाव में है, जिससे समस्याएं बढ़ती हैं। समस्या बहुत साधारण स्तर से शुरू होकर अन्त में जटिल मानसिक रोग का रूप ले लेती है। ऐसी समस्याओं को प्राथमिक स्तर पर काउंसलिग या योग के माध्यम से आसानी से दूर किया जा सकता है। डा. रामजी सिंह ने कहा कि मानसिक रोगों से बचने के लिए हमें जीवन-शैली में सुधार लाने और नियमित रूप से योग को अपनाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि मानसिक विकार से ग्रसित व्यक्ति को झाड़-फूंक के चक्कर में नहीं पड़ना चाहिए। उसे मानसिक रोग विशेषज्ञ की सलाह पर इलाज कराना चाहिए। उन्होंने बताया कि नींद न आना, तनाव, घबराहट, जीवन के प्रति निराशा, डर लगना, व्यवहार में अचानक तेजी आना आदि मानसिक रोग के लक्षण हो सकते हैं। स्टाफ नर्स पूजा मौर्य ने बताया कि शिविर में 56 लोगों का रजिस्ट्रेशन करते हुए जांचोपरांत उन्हें निःशुल्क दवा दिया गया। साथ ही मानसिक रूप से कमजोर लोगों में फल वितरित किया गया। कार्यक्रम में ब्लाक प्रबंधन अधिकारी सोनल श्रीवास्तव, एआरओ रामेश्वर यादव, स्टाफ नर्स पूजा मौर्या, मीरा यादव, भाजपा नेता कुंदन सिंह, दिलीप मित्रा, राजेश चौहान, राजेश राय, रामअवध यादव, सनी शशांक वर्मा सहित काफी संख्या में महिलाएं व पुरुष मौजूद रहे।

Visits: 47

Leave a Reply