पवन कुमार वर्मा को मिला ‘अमृत लाल नागर बाल कथा सम्मान’

गाज़ीपुर। बाल कथाकार पवन कुमार वर्मा को उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान,लखनऊ द्वारा वर्ष 2022 के ‘अमृत लाल नागर बाल कथा सम्मान’ के लिए चयनित होने पर साहित्य चेतना समाज ने बैठक कर खुशी का इजहार किया है।

     साहित्य चेतना समाज ने वरिष्ठ साहित्यकार हरिनारायण हरीश की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में संस्था के पूर्व प्रतिभागी पवन कुमार वर्मा को  ‘अमृत लाल नागर बाल कथा सम्मान’ के लिए चयनित होने पर हर्ष प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्हें बधाई दी गई।

       साहित्य चेतना समाज के संस्थापक अमरनाथ तिवारी अमर ने कहा कि पवन कुमार वर्मा अपने विद्यार्थी जीवन में संस्था की ओर से आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में कई बार चयनित व पुरस्कृत हो चुके हैं। कई साहित्यिक सम्मान प्राप्त कर चुके पवन कुमार वर्मा के कई बाल कथा संग्रह प्रकाशित हैं जिनमें जंगल की एकता,अनोखी दोस्ती,सपनों की दुनिया,हम सब साथ-साथ हैं,मिट्ठू चाचा,दादाजी का मौन व्रत,मटके वाली कुल्फी,अक्ल बड़ी या भैंस प्रमुख हैं। इनकी बाल कहानियां विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित होती रहतीं हैं और आकाशवाणी से भी इनकी बाल कहानियों का प्रसारण हो चुका है।

         बैठक में डाॅ.रविनन्दन वर्मा, हीरा राम गुप्ता, विन्ध्याचल यादव, संजीव गुप्त, दिग्विजय उपाध्याय,अमरनाथ तिवारी अमर सहित अन्य लोग मौजूद रहे। संचालन संगठन सचिव प्रभाकर त्रिपाठी ने किया ।

Views: 95

Leave a Reply