हरितालिका तीज – इंद्र योग तथा रवियोग के साथ होगा सम्पन्न

ज्योतिष गुरू पंडित अतुल शास्त्री

हरतालिका तीज व्रत भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष के तृतीया तिथि को रखा जाता है। कहा जाता है कि इस व्रत को सुहागिन महिलाएं रखती हैं। इसके साथ ही वह भगवान शिव और माता पार्वती की मिट्टी की प्रतीमा बनाकर पूजा करती हैं। सुहागन महिलाएं इस दिन सोलह श्रृंगार भी करती हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, जो महिलाएं हरतालिका तीज के दिन व्रत रखती हैं, उसके वैवाहिक जीवन में कभी भी किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं आती। इसके साथ ही दाम्पत्य जीवन में खुशहाली और पति की लंबी आयु और पति की सौभाग्य की प्राप्ति के लिए करते हैं। हरतालिका तीज के दिन महिलाएं एक साथ जुटकर एक दूसरे के हाथों में मेहंदी लगती हैं, दिन भर गीत गाकर शाम के समय भगवान शिव, माता पार्वती और भगवान गणेश की पूजा कर कथा सुनती हैं। साथ ही भगवान शिव के आशीर्वाद भी प्राप्त करती हैं। इस साल हरतालिका तीज पर कई सारे शुभ योग बन रहे हैं।

हरतालिका व्रत 2023 का शुभ मुहूर्त
हिंदू पंचांग के अनुसार, हरतालिका तीज व्रत हर साल भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि के दिन रखा जाता है। इस साल हरतालिका तीज की शुभ तिथि 17 सितंबर 2023 दिन रविवार को 11 बजकर 08 मिनट से शुरू हो रही है और इसकी समाप्ति अगले दिन 18 सितंबर 2023 को 12 बजकर 38 मिनट तक रहेगी। सनातन धर्म में उदया तिथि में कोई भी पूजा-पाठ किया जाता है, इसलिए हरतालिका तीज व्रत 18 सितंबर 2023 को रखा जाएगा। पंचांग के अनुसार, इस दिन पूजा के लिए शुभ मुहूर्त सुबह के 6 बजकर 7 मिनट से शुरू होगा और इसकी समाप्ति सुबह के 8 बजकर 34 मिनट तक रहेगा। जो भी महिलाएं हरतालिक तीज की पूजा करनी चाहती हैं, वे इस शुभ मुहूर्त में पूजा कर सकती हैं।
हरतालिका तीज 2023 पर बन रहे हैं शुभ योग – ज्योतिष गुरू पंडित अतुल शास्त्री के अनुसार, हरतालिका तीज के दिन कई सारे शुभ योग बन रहे हैं। शास्त्रों के अनुसार, इस दिन इंद्र योग का निर्माण हो रहा है, जो पूरे दिन रहेगा। वहीं इस दिन रवियोग का भी योग निर्माण हो रहा है। जो दोपहर के 12 बजकर 8 मिनट से लेकर पूरी रात रहने वाला है।
कुंवारी लड़कियां हरतालिका तीज पर अच्छे जीवनसाथी की कामना के लिए निर्जला व्रत रखती हैं। इस दिन आप माता पार्वती को हल्दी की 11 गांठ लाल कपड़े में बांधकर अर्पित करें. मान्यता है इससे शीघ्र शादी के योग बनते हैं।
हरतालिका तीज के लिए आप शिवलिंग के सामने पांच नारियल रखकर ‘ओम श्री वर प्रदाय श्री नमः’ का पांच माला जप करें. इसके बाद पांच नारियल एक-एक करके शिवलिंग पर अर्पित करें. कहते हैं इससे सुयोग्य पति प्राप्त होता है।
शादी के बाद दांपत्य जीवन में उमंग खत्म हो चुकी है। पति-पत्नी के बीच प्रेम में कमी आ गई है तो हरतालिका तीज के दिन महिलाएं एक बेलपत्र में चंदन से ऊं लिखकर अपनी कामना बोलते हुए शिवलिंग पर चढ़ाएं. कहते हैं इस उपाय से वैवाहिक जीवन फिर खुशियों से भर जाता है।
हरतालिका तीज के दिन संध्याकाल में 11 घी के दीपक जलाकर शिव-पार्वती जी की आरती करें. इस उपाय को करने से अखंड सौभाग्य का आशीर्वाद मिलता है।
प्रेम विवाह की चाहत रखने वालों को हरतालिका तीज के दिन एक लाल चुनरी में सिक्का, सुपारी, एक लाल फूल बांधकर माता पार्वती के चरणों में रखें और ऊं गौरी शंकराय नम: मंत्र का जाप करें. इससे शादी की सारी अड़चने दूर होंगी।

Views: 169

Leave a Reply