हम वहां फहराते हैं तिरंगा,जहां जलती हैं शहीदों की चिताएं

गाजीपुर। हम वहां तिरंगा फहराते हैं जहां हमारे शहीदों की चिताएं जलतीं हैं। उनके परिजन उनको यहीं अंतिम विदाई देते हैं। उनका शरीर यहीं की मिट्टी में मिल जाता है। स्वतंत्रता दिवस पर मंगलवार को मुहम्मदाबाद तहसील क्षेत्र के सुल्तानपुर गांव स्थित मां गंगा के पावन तट पर पूर्व ब्लाक प्रमुख मित्रसेन प्रधान अंत्येष्टि स्थल पर डोमराजा आशिक ने ध्वजारोहण के बाद आयोजित कार्यक्रम में यह बातें कहीं। 

इस मौके पर पूर्व प्रधान एवं मित्रसेन प्रधान मेमोरियल सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष डा. अविनाश प्रधान ने कहा कि देश में कहीं भी हमारे इलाके के नौजवान अपनी शहादत देते हैं तो उनकी अंतिम विदाई का स्थान यही है। यहां के कण कण में उन शहीदों की मिट्टी मिली हुई है। हमारे शहीद इन्हीं श्मशानों और कब्रिस्तानों में दफन हैं। ” मेरी माटी, मेरा देश” कार्यक्रम के लिए अमृत कलश के लिए मिट्टी एकत्रित की जा रही है यदि इन श्मशानों और कब्रिस्तानों से मिट्टी नहीं लिया तो अभियान अधूरा है। उन्होंने पूर्व ब्लाक प्रमुख मित्रसेन प्रधान अंत्येष्टि स्थल पर रहने वाले लोगों को देश, स्वतंत्रता, संविधान को विस्तार से समझाया। कहा कि हमारी सरकार ने यहां सुविधाओं को उपलब्ध कराया है, इसलिए यहां आने वाले शवयात्रियों को परेशानी न हो इसका हम ध्यान रखें। डा. अविनाश प्रधान ने यहां जमीन खरीद अभियान का जिक्र करते हुए कहा कि लोगों की भावनाएं यहां से इस तरह जुड़ी हैं कि एक अपील पर आवश्यकता के अनुसार 18 लाख रुपये जुट गए। इससे हमारा दायित्व और अधिक बढ़ गया है। वहां मौजूद लोगों ने दानदाताओं के प्रति हार्दिक आभार जताया। डा. प्रधान ने कहा कि मां गंगा की सफाई में इस अंत्येष्टि स्थल का बड़ा योगदान है। अब शवों को सीधे मां गंगा में प्रवाहित नहीं किया जाता। जिसका असर गंगा को निर्मल रखने में हुआ है। आगे भी घाट, अंत्येष्टि स्थल की सफाई का विशेष ध्यान रखा जाएगा।

कार्यक्रम में टुन्नू डोम,रामू डोम,सभूति डोम,प्रकाश डोम,प्रकाश डोम,पव्वा डोम,रामा पांडेय, मुन्ना यादव, गिरजा यादव,संतोष प्रधान, गुड्डू यादव,पिंटू डोम,रमेश राजभर, सतीश दास,सुनील प्रधान लालू,धीरज यादव,गुड्डू डोम,मन्नू राजभर,मोहन लाल पांडेय आदि मौजूद रहे।

Views: 20

Leave a Reply