युवाओं को सेवा संस्कार और राष्ट्रीय सुरक्षा हेतु तैयार करना ही शौर्य जागरण यात्रा का उद्देश्य 

गाज़ीपुर। विश्व हिंदू परिषद के युवा संगठन बजरंग दल द्वारा निकाली गई शौर्य जागरण यात्रा के रविवार को सादात नगर की सीमा में पहुंचने पर नगरवासियों द्वारा भव्य स्वागत किया गया।

         बताते चलें कि शौर्य जागरण यात्रा रविवार को सैदपुर से भीमापार, मकदुमपुर, प्यारेपुर, डढ़वल होते हुए सादात नगर में पहुंची। सादात नगर की सीमा में प्रवेश करते ही भव्य स्वागत किया गया। यात्रा में शामिल हिन्दू संगठन से जुड़े आदित्य चौधरी, दीपेश जायसवाल, सुरेन्द्र मद्धेशिया, राजू मद्धेशिया, अभिषेक सिंह, विवेक गुप्ता, श्रीस पांडेय, शशि कुमार, मनोज आदि ने रघुवंश चौराहे पर विधिवत आरती किया। तत्पश्चात ठाकुरद्वारा मन्दिर पहुंचकर दर्शन पूजन के बाद यात्रा अगले गंतव्य को रवाना हो गई।

         उल्लेखनीय है कि पांच अक्टूबर को आगरा से शुरू हुई शौर्य जागरण यात्रा का 14 अक्टूबर को शाहजहांपुर में समापन होगा। दस दिवसीय शौर्य जागरण यात्रा का प्रमुख उद्देश्य हजारों वर्षों से हिंदू समाज व सनातन धर्म के विरुद्ध हो रहे षड्यंत्र एवं कुचक्रों से सावधान करना एवं जागरूकता बढ़ाना है। बता दें कि अयोध्या में भगवान श्रीराम के जन्म स्थान पर भव्य राम मंदिर की संकल्पना के पूर्ण होने पर ये यात्रा निकाली जा रही है। यात्रा में शामिल स्वामी ध्यानानंद महाराज ने कहा कि यात्रा का मुख्य उद्देश्य युवाओं को राष्ट्र के साथ जोड़कर सेवा संस्कार और राष्ट्र की सुरक्षा के लिए तैयार करना है।

……………

Visits: 109

Leave a Reply