प्रेमी के बाद प्रेमिका की भी हुई हत्या, मृतका के परिजन पहुंचे हवालात

गाजीपुर। जिले के खानपुर थाना क्षेत्र के इचावल गांव की एक युवती का शव आज मंगलवार की सुबह उसके घर के पीछे गेहूँ के खेत में पड़ा मिला। सम्भवतः उसकी पहचान छिपाने के लिए उसका चेहरा बुरी तरह से कुचल दिया गया था। उम्मीद जताई जा रही थी कि सम्भवतः युवती की हत्या भी गोली मारकर की गई थी।
बताते चलें कि खानपुर थाना क्षेत्र के ही रामपुर गांव के जलनिगम पानी टंकी के समीप सोमवार की अलसुबह बभनौली कला निवासी अजय यादव पुत्र रामप्रताप यादव की सिर में गोली मारी गयी थी जिसकी वाराणसी में इलाज के दौरान कल ही मौत हो गयी थी। हत्यारों ने अजय यादव की हत्या को आत्महत्या का साबित करने के लिए वहां दो पिस्टल रख दी थी जिसमें से एक उसके हाथ में और एक उसके पास नीचे गिरी थी। मृतक अजय यादव वर्ष 2018 यूपी पुलिस में कान्स्टेबल पद पर भर्ती हुआ था। वर्तमान में उसकी तैनाती अमेठी जिले के गौरीगंज थाने में थी। वह छुट्टी लेकर अपनी चचेरी बहन की गोद भराई के अवसर पर घर आया था। रविवार को ही गोदभराई का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ था।
कल अजय यादव की मौत के बाद उसके परिजन जहां हत्या की आशंका जताते रहे वहीं पुलिस प्रथम दृष्टया उसे आत्महत्या का मामला मानती रही, परंतु बाद में पुलिस ने जब मृतक का मोबाइल खंगाला तो चौकानेवाले रहस्य सामने आए और पुलिस उसी आधार पर अपनी जांच आये बढ़ाई।
मृतक सिपाही के मोबाइल के व्हाट्सएप मैसेज से पता चला कि सोमवार की रात तकरीबन तीन बजे क्षेत्र के इचावल गांव की एक युवती ने मैसेज किया कि तत्काल मिलने आओ नहीं तो हम मर जायेंगे। आशंका थी कि सम्भवतः उसी मैसेज के पढ़ने के बाद वह घर से गया था। पुलिस ने उसे आनर किलिंग की सम्भावना पर, हत्या के रहस्य से पर्दा उठाने हेतु पुलिस इचावल गांव की उस युवती के घर जा धमकी। पुलिस ने जब उस युवती को बुलाने को कहा तो युवती के परिजनों ने उसके गायब होने की जानकारी दी। पुलिस को इस पर दाल में कुछ काला लगा और उसने वहां निगरानी लगाकर युवती की खोजबीन शुरू कर दी।
मंगलवार की सुबह गुमशुदा बताई गई युवती का शव उसके घर के पीछे गेहूं के खेत में होने की सूचना मिलते ही पुलिस मौक ए वारदात पर जा धमकी। वहां की संदिग्ध परिस्थितियों को देखते हुए पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मृतका के घर की तलाशी ली। तलाशी में मृतक सिपाही की चप्पल भी वहीं पायी गई और घर के कई सामान टूटी अवस्था में पड़े मिले।
यह देख पुलिस ने मृतका के आठ परिजनों को अपनी गिरफ्त में ले लिया। उम्मीद जताई गई कि दोनों प्रेमियों की हत्या उसी घर में की गयी थी।
मृतक के परिजनों के अनुसार, दोनों ने वर्ष 2018 में कोर्ट मैरिज की थी परन्तु युवती के परिजन उस शादी के विरुद्ध थे और उसे लेकर विवाद भी चल रहा था।


Hits: 166

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: