‘फोनी’ चक्रवात ! एक दर्जन लोगों की गई जान

नई दिल्ली, 04 मई 2019। चक्रवाती तूफान ‘फोनी’ ने पिछले दो दिनों में ओडिशा में जमकर तबाही मचाई। इसमें कम से कम 12 व्यक्तियों की मौत हुई है। आज राज्य के लगभग 10,000 गांवों और शहरी क्षेत्रों में युद्धस्तर पर राहत एवं बहाली कार्य शुरू किये गये।
बताया गया कि 200 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चले फनी चक्रवाती तूफान की वजह से कल पुरी में तेज बारिश और आंधी के चलते इसकी चपेट में आये कस्बों और गांवों में बहुत से घरों की छतें उड़ गयीं और कई घर पूरी तरह से बर्बाद हो गये।
ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा कि नागरिक समाज संगठनों, एनडीआरएफ, ओडिशा आपदा त्वरित कार्रवाई बल (ओडीआरएएफ) के कर्मियों और एक लाख अधिकारियों के साथ लगभग 2,000 आपातकालीन कर्मचारी, सामान्य जीवन को फिर से बहाल करने के कार्य में जी जान से लगे हुए हैं। अधिकारियों ने कहा कि आपदा के कारण मरने वालों की संख्या कल शुक्रवार को आठ थी, जो मयूरभंज जिले के बारीपदा में अलग-अलग स्थानों पर पेड़ गिरने से चार लोगों की मौत के बाद अब 12 हो गई।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से बात कर चक्रवात के बाद की मौजूदा स्थिति पर चर्चा करते हुए राज्य सरकार को आश्वासन दिया कि केंद्र की तरफ से राज्य को हर सम्भव सहायता मिलती रहेगी।

Views: 46

Leave a Reply