बिजली कटौती जारी, विद्युत उत्पादन इकाइयां ठप होने से हो रही कटौती

लखनऊ। प्रदेश में विद्युत उत्पादन इकाइयां ठप होने से उपभोक्ताओं को बिजली कटौती का सामना करना पड़ रहा है। उम्मीद है कि करीब एक सप्ताह तक उपभोक्ताओं को बिजली संकट से जूझना पड़ेगा। इसका सबसे अधिक असर ग्रामीण इलाकों में पड़ रहा है, जहां 5 से 6 घंटे कटौती व संबंधित क्षेत्र में लोकल फाल्ट आदि के चलते करीब आठ घंटे से ज्यादा की कटौती देखने को मिलेगी। 

       उल्लेखनीय है कि प्रदेश की चार उत्पादन इकाइयों में रविवार की शाम गड़बड़ी आ गई। दो इकाइयों में बॉयलर में गड़बड़ी आई तो वहीं एक इकाई में अन्य तकनीकी खराबी बताई गयी। इसी तरह एक इकाई में कोयले की आपूर्ति कम होने की वजह से उत्पादन ठप हुआ है। ऐसी स्थिति में राज्य में होने वाले कुल उत्पादन में करीब ढाई हजार मेगावाट की गिरावट आ गई है।

     बताया गया कि इस दौरान बिजली की खपत करीब 21000 मेगावाट रही है लेकिन उमस भरी गर्मी की वजह से यह खपत 24000 मेगावाट से उपर तक जा सकती है। एक तरफ जहां घरेलू उत्पादन कम हुआ है तो दूसरी तरफ खपत बढ़ा है। इन हालात को देखते हुए पावर कॉरपोरेशन ने कटौती शुरू कर दी है। सोमवार से ही अघोषित कटौती की जा रही है। इस अघोषित कटौती से विद्युत उपभोक्ताओं को परेशानियां उठानी पड़ रही हैं।

Visits: 67

Leave a Reply