माया तू महा ठगिनी हम जानें…….

गबन के आरोपी सचिव पर हुई प्राथमिकी दर्ज


गाजीपुर। साधन सहकारी समिति बहरियाबाद के कैडर सचिव के विरुद्ध बहरियाबाद थाने में गबन करने के आरोप में एफआईआर दर्ज हुआ है। घोटाले और विवादों के कारण चर्चा में रहे कैडर सचिव को घपलेबाजी के कारण वर्ष 2020 में निलंबित कर दिया गया था।
उल्लेखनीय है कि कैडर सचिव नरेन्द्र प्रताप सिंह पर 26,61,810 रुपये गबन करने तथा 9,73,668 का ऋण नियम के विरुद्ध जाकर बांटने का आरोप है।
बताते चलें कि उच्चाधिकारियों के निर्देश पर जखनियां के अपर जिला सहकारी अधिकारी निरंजन मौर्या ने बहरियाबाद थाने में तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया है। तहरीर में कहा गया है कि खानपुर थाना क्षेत्र के मौधा निवासी नरेन्द्र प्रताप सिंह पुत्र दशरथ सिंह बहरियाबाद साधन सहकारी समिति के कैडर सचिव के पद पर नियुक्त थे। इसके साथ ही उनके पास भीमापार, पलिवार और हंसराजपुर समिति का भी अतिरिक्त प्रभार था। उन्होंने भीमापार समिति के उपकेंद्र बड़ागांव पर गेहूं खरीद में लगभग 11 लाख का गबन किया और करीब साढ़े छह लाख का उर्वरक बेंचकर उसकी धनराशि को हजम कर गये। उन्होंने हंसराजपुर समिति पर वसूली का पैसा भी बैंक में जमा नहीं किया था।
स्थितियों से अवगत होने के बाद उच्चाधिकारियों ने उन्हें अक्टूबर 2020 में निलंबित कर दिया और उनके विरुद्ध जांच का आदेश दिया। जांचोपरांत पाया गया कि सचिव द्वारा कुल 26 लाख 61 हजार 810 रुपये का गबन किया गया है। साथ ही 9 लाख 73 हजार 668 रुपये के ऋण वितरण में भी गड़बड़ी की गई है। उन्होंने समिति का अभिलेख तक गायब कर दिया था।
इस सन्दर्भ में बहरियाबाद थानाध्यक्ष संदीप कुमार ने बताया कि सुसंगत धाराओं में केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

Hits: 156

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: