राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 पर कार्यशाला में रोजगार परक शिक्षा व्यवस्था पर डाला प्रकाश

गाजीपुर। जिला शिक्षा प्रशिक्षण संस्थान सैदपुर के सभागार में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 पर आयोजित कार्यशाला में गाजीपुर जनपद के निजी डी एल एड कॉलेजों के प्रबंधकों ने प्रतिभाग किया। कार्यशाला को संबोधित करते हुए प्राचार्य सोमारू प्रधान ने कहा कि राष्ट्र का एक जिम्मेदार नागरिक होने के कारण हम सभी को राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के प्रावधानों का अध्ययन करना चाहिए। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 में छात्रों के लिए रोजगार परक शिक्षा की व्यवस्था की गई है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का विजन है कि हम उन नागरिकों का निर्माण करें जो अपने देश के साथ जुड़ाव कर सकें, उनमें अंतरराष्ट्रीय भावना का विकास हो सके।उपप्राचार्य उमानाथ जी ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति में शिक्षक शिक्षा संबंधी प्रावधानों पर प्रकाश डाला। कार्यशाला को संबोधित करते हुए निजी डी एल एड कॉलेज संघ के अध्यक्ष डॉ मनोज कुमार सिंह ने कहा कि नई शिक्षा नीति में परिवर्तन बहुत ही सकारात्मक दिशा में किया गया है, किंतु नई शिक्षा नीति में डीएलएड कोर्स नाम ना होने पर उन्होंने निराशा व्यक्त की और कहा कि निजी डी एल एड कालेजों का भविष्य अनिश्चित दिखाई दे रहा है। कार्यशाला को बी के सिंह, अनामिका, शिव कुमार पांडेय ,सुमन तिवारी ,निधि सोनकर, आलोक कुमार ,बृजेश कुमार ,आलोक तिवारी ,राजवंत सिंह आदि प्रवक्ताओं ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के विभिन्न प्रावधानों पर प्रकाश डाला। इस कार्यक्रम में अशोक कुमार सिंह ,सत्य प्रकाश यादव ,भुल्लन सिंह आदि प्रबन्धकों ने प्रतिभाग किया। दस दिवसीय कार्यशाला/वेबिनार का संचालन कार्यशाला संयोजक डा. सर्वेश कुमार राय ने तथा धन्यवाद ज्ञापन डॉ कमल नयन सिंह यादव ने किया।


Hits: 22

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: