प्रतिभा सम्मान समारोह में पदक और प्रमाण पत्र पाकर चहके छात्र छात्राएं

गाज़ीपुर। मां काली आदर्श आईटीआई कालेज एण्ड पब्लिक स्कूल शिशुआपार में प्रतिभा सम्मान समारोह रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ सम्पन्न हुआ।

       कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा मां सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलन तथा माल्यार्पण कर किया गया। संस्था द्वारा कार्यक्रम के मुख्य अतिथि तथा विशिष्ठ अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

        कार्यक्रम के मुख्य अतिथि, विशिष्ट अतिथि एवं अन्य अतिथियों द्वारा संस्थान के मेधावी छात्र छात्राओं को पदक तथा प्रमाणन पत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि यूनियन बैंक मुख्य शाखा के प्रबंधक विजय कुमार ने जीवन में शिक्षा के साथ  अनुशासन की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने बैंक द्वारा शिक्षा और अन्य क्षेत्र में दी जाने वाली सुविधाओं का लाभ लेने का आह्वान किया। विशिष्ट अतिथि उ. प्र. अपराध निरोधक समिति लखनऊ के जोन सचिव तथा जर्नलिस्ट काउंसिल आफ इंडिया के राष्ट्रीय सलाहकार डा. एके राय ने तपस्वी मनीषियों को याद करते हुए राजनीतिक, सामाजिक और सांस्कृतिक तथा शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले जिले की उन प्रमुख हस्तियों का जिक्र किया, जिन्होंने समाज के विभिन्न क्षेत्रों में काम कर  जनपद का नाम बुलन्द किया है। उन्होंने छात्र छात्राओं को उनसे सीख लेकर बच्चों से जिले का नाम रोशन करने की सलाह दी।

      विशिष्ट अतिथि प्रकाश गुप्ता ने मेधावी विद्यार्थियों को शुभकामनाएं देते हुए रोजगार परक शिक्षा की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कौशल विकास मिशन की लाभकारी योजनाओं से लाभ लेने का आग्रह किया। 

         इस दौरान विद्यालय से शिक्षा प्राप्त करके सीआईएसएफ में कार्यरत आदर्श राजभर सहित आरव यादव, अंशिका, काजल, प्रतीक, खुशी, शिवम, अभिनव, आराध्या, दीपशिखा, अभिषेक चौहान, आईटीआई के राजा कुमार, प्रद्युम्न, पीयूष, विशाल, मनीष आदि को मेडल, स्मृति चिन्ह व प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया गया। समारोह में चन्दन प्रजापति, वरिष्ठ पत्रकार कमल किशोर, प्रिंसिपल अनिल राय, सुधा राय, अपर्णा राय, अतुल राय, मनोज शर्मा, संतोष राय, आदर्श राय, विनोद कुमार सहित छात्र छात्राएं और उनके अभिववकगण मौजूद रहे। कार्यक्रम का सफल संचालन मंगल मैत्री सेवा मंडल के चेयरमैन सूबेदार सनेही और आभार  ज्ञापन प्रबंधक प्रद्युम्न कुमार राय ने किया।

Visits: 64

Leave a Reply