सामुहिक विवाह में 236 जोड़ो ने थामा एक दूजे का हाथ

गाजीपुर। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत सामुहिक विवाह कार्यक्रम आर टी आई मैदान (नवीन स्टेडियम) में पूरे विधि विधान के साथ बुधवार को सम्पन्न हुआ।

       समारोह का शुभारम्भं मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष  सपना सिंह एवं नगर पालिका अध्यक्ष सरिता अग्रवाल ने दीप प्रज्ज्वलित एवं मॉ सरवस्ती के चित्र पर पुष्प अर्पित कर किया। 

            सामुहिक विवाह योजना में जनपद के समस्त विकास खण्डों,  नगर पालिका/नगर पंचायत के कुल  236 जोड़ो का सामुहिक विवाह पूरे विधि विधान के साथ सम्पन्न हुआ। जिला पंचायत अध्यक्ष ने नव विवाहित जोड़ो के खाते में ऑनलाईन माध्यम से बटन दबाकर 35-35 हजार रूपये की धनराशि वधूओं के खाते में हस्तात्रित किया तथा नव दाम्पत्य को विवाह प्रमाण पत्र एवं पौध रोपण हेतु फलदार वृक्ष का पौधा प्रदान किया। कार्यक्रम में  उपस्थित समस्त जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों ने  नव विवाहित वर-वधुओं को उनके वैवाहिक जीवन की मंगल कामना करते हुए शुभकामना दी।

     मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष सपना सिंह ने अपने सम्बोधन मे कहा कि मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना का मुख्य उद्देश्य दहेज प्रथा बंद कराना है। मा0 प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री जी ने बेटियों के जन्म से लेकर विवाह तक की चिंता बांट ली है। अब बेटियां किसी भी पिता पर बोझ नही है। बेटी ऐसी लक्ष्मी है जो जिस घर में जन्म लेती है वो घर पवित्र हो जाता है। उन्होंने कहा कि एक पिता के लिए कन्यादान से बड़ा कोई दान नहीं होता। उन्होने परिणय सूत्र में बधे नव दम्पितियों को शुभकामना दी। उन्होने उपस्थित माता-पिता से नव बधुओं को बहु नहीं बल्कि बेटी बनाकर अपने घर ले जाने की बात कही। 

     मुख्य विकास अधिकारी संतोष कुमार वैश्य ने नव विवाहित वर-वधुओ को आर्शिवचन देते हुए कहा कि नव विवाहित जोड़ो ने सात फेरे लेकर  एक साथ रहने का जो संकल्प लिया है उसे आजीवन निर्वहन करें। मुख्यमंत्री जी ने इस योजना के माध्यम से गरीब, मजदूर एवं  असहाय परिवारों को इसका लाभ दिया है।   उन्होने कहा कि समुहिक विवाह योजना के अन्तर्गत हर एक बेटियों को 35 हजार रूपये सरकार सीधे उनके खाते में देती है। इसके अलावा अन्य वैवाहिक सामाग्री भी प्रदान किया गया है। 

नगर पालिका अध्यक्ष सरिता अग्रवाल ने नव विवाहित जोड़ों को बधाई दी और कहा कि सामुहिक विवाह योजना कार्यक्रम  महिलाओं के प्रति समाज में  फैली  कुरितियॉ को खत्म करने का सार्थक प्रयास है। इस अवसर पर सभी दाम्पत्य जोड़ो को पौधरोपण हेतु पौधे उपलव्ध कराये गये तथा प्रत्येक जोड़ो को अपने सालगिरह पर प्रत्येक वर्ष एक-एक पौध लगाने की अपील की। 

     इस अवसर पर उप जिलाधिकारी सदर, जिला विकास अधिकारी, परियोजना निदेशक, समाज कल्याण अधिकारी राम नगीना यादव, एवं अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी एवं जनप्रतिनिधिगण उपस्थित रहे।

Visits: 58

Leave a Reply