सीएमओ के आदेश हवा हवाई

शहीद अब्दुल हमीद प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र आज भी चिकित्सक विहीन 

गाज़ीपुर। पैटन टैंक को धराशाई करनेवाले, परमवीर चक्र विजेता शहीद अब्दुल हमीद के नाम पर बने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र धामुपुर में कई महिनों से चिकित्सक नदारत हैं। ग्राम वासियों के लाख प्रयासों के बावजूद मुख्य चिकित्सा अधिकारी तथा जनपदीय अधिकारी सिर्फ आश्वासन का घूंट पिलाते रहे हैं। मुख्य चिकित्साधिकारी ने लिखित नियुक्ति तो जारी कि फिर भी कोई चिकित्सक नहीं पहुंचा। इससे गांव तथा आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों में तीव्र आक्रोश व्याप्त है। ग्रामीणों ने स्वास्थ्य विभाग पर आप लगाया कि विभाग जानबूझकर इस अस्पताल पर चिकित्सक की तैनाती नहीं कर रहा है। धामुपुर शहीद वीर अब्दुल हमीद का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भाग्य भरोसे पड़ा हुआ है।

        बताते चलें कि पूर्व में नियुक्त चिकित्सक डॉ. राकेश रोशन का स्थानांतरण मऊ जनपद में हो जाने के बाद चार माह से चिकित्सक का पद रिक्त पड़ा था। जिसको लेकर धामूपुर के गांव के समाजसेवी अनिकेत चौहान ने पीएमओ को पत्र लिखकर चिकित्सक के तैनाती की मांग की गई थी। उसे संज्ञान में लेते हुए पीएमओ ने शीघ्र चिकित्सक की तैनाती का निर्देश दिया था। इसके बाद सीएमओ ने डॉक्टर की नियुक्ति का आदेश जारी कर दिया‌। उन्होंने बताया कि हथियाराम मठ स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सक डॉ अनूप राजभर की तैनाती पीएचसी धामूपुर में सप्ताह में तीन दिन के लिए किया गया है। इस आदेश के दो महीने बीत जाने के बाद भी अस्पताल पर चिकित्सक नहीं पहुंचे।

फिर 18 अक्तुबर को नया आदेश जारी किया गया कि डा० अजय यादव की तैनाती की गई है। इस नियुक्ति के एक माह से अधिक समय बीतने के बाद भी अब तक डाक्टर के दर्शन नहीं हुए हैं।

      ग्रामीणों ने कहा कि इस समय डेंगू, मलेरिया, टाइफाइड तथा मौसमी बीमारियां का प्रकोप काफी तेजी से चल रहा है। ऐसे में  प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर चिकित्सक न होने से ग्रामीणों को इलाज के लिए मजबूरी में प्राइवेट चिकित्सकों के पास जाना पड़ रहा है जिससे समय और धन की बर्बादी हो रही है। समाजसेवी अनिकेत चौहान ने विभागीय अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुए शीघ्र चिकित्सक की नियुक्ति की मांग की है और अन्यथा कि स्थिति में जन आन्दोलन की चेतावनी दी है।

Visits: 191

Leave a Reply