हत्या के रहस्य से उठा पर्दा, दो हत्याभियुक्त गिरफ्तार

गाजीपुर। शादियाबाद थाना क्षेत्र के यूसुफपुर गांव के बेसो नदी के पास बीस सितम्बर को मिले शव के रहस्य से पुलिस ने पर्दा उठाते हुए हत्याभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है।
उक्त जानकारी पुलिस अधीक्षक रोहन पी बोत्रे ने अपने कार्यालय में पत्रकारों को दी। बताया गया कि शादियाबाद थाना क्षेत्र के चौरा निवासी शिवचरन राम पुत्र स्व.धुर्वल राम की हत्या पैसों के लेनदेन में हुई थी। गयी।
बताया गया कि थाना शादियाबाद पुलिस व सर्विलांस टीम की संयुक्त टीम ने वांछित अभियुक्त रमेश कुमार बिंद पुत्र मधुबन राम बिंद निवासी ग्राम सौरी थाना शादियाबाद गाजीपुर हालपता बैयपुर देवकली थाना कोतवाली सदर गाजीपुर संचालक आराध्या नर्सिंग होम की गिरफ्तारी के उपरान्त प्रकाश में आये अभियुक्त रविन्द्र बिन्द पुत्र रामाशिष बिन्द निवासी सौरी थाना शादियाबाद जनपद गाजीपुर के सम्बन्ध में सूचना मिली कि वह एक अन्य व्यक्ति के साथ सिरगिथा बाजार में मौजूद है।
इस सूचना पर पुलिस टीम ने सिरगिथा बाजार से करीब 100 कदम दूरी से रविन्द्र बिन्द पुत्र रामाशिष बिन्द निवासी सौरी थाना शादियाबाद जनपद गाजीपुर को गिरफ्तार कर लिया।
उल्लेखनीय है कि विवेचना के दौरान प्रकाश में आया था कि अभियुक्त रमेश कुमार बिन्द अपने भतीजा/सह अभियुक्त रविन्द्र कुमार बिन्द को नौकरी दिलाने के नाम पर मृतक शिवचरन राम को करीब 10 माह पूर्व 1.5 लाख रूपया नगद दिया था। नौकरी न दिलाने पर अभियुक्त रमेश कुमार बिन्द ने शिवचरन राम से अपना रूपया मांगने लगा‌। इसी क्रम में एक माह पूर्व ही रूपये की मांग किया था परन्तु शिवचरन राम ने रूपया न देकर कुछ समय की मांग किया था।
पुनः दिनांक 19 सितम्बर 2022 को दोनों उपरोक्त अभियुक्त शिवचरन राम के बारे में पता लगा कर पहले रविन्द्र कुमार बिन्द मृतक शिवचरन राम के घर ग्राम चौरा जाकर अपने चाचा/ सह अभियुक्त रमेश कुमार बिन्द को फोन से सूचना दिया कि शिवचरन राम गाँव में मौजूद है‌। इस सूचना के बाद अभियुक्त रमेश कुमार बिन्द अपने चालक भानू बिन्द पुत्र परशुराम बिन्द निवासी सकरा थाना कोतवाली सदर के साथ सांयकाल समय करीब 7-8 बजे के मध्य ग्राम चौरा अपने कार नं यूपी 61 एवी 1020 से जा पहुँचा। वहां पूर्व से मौजूद अभियुक्त रविन्द्र बिन्द के साथ तीनों ने मिलकर कार में शिवचरन बिन्द को बैठा लिये और गाँव से थोडी दूर सय्यद बाबा के मजार के निकट पहुँचकर सडक के किनारे शिवचरन राम को मारे पीटे जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद उन्होंने मृतक शिवचरन राम के शव को बेसो नदी के पुल के आगे ग्राम युसुफपुर के पास सड़क किनारे फेंक दिये।
सर्विलांस टीम की सहायता से दोनों अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया। वहीं अभियुक्त रमेश कुमार बिन्द की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त उपरोक्त कार को पुनीत कार सेल्स लि0 पडाव वाराणासी से बरामद कर आलाकत्ल लकडी का डंडा एवं मृतक की बाये पैर की एक चप्पल व मृतक का निर्वाचन प्रमाण पत्र बरामद कर वाहन एवं बरामदशुदा माल को कब्जा पुलिस में लिया गया। चालक भानू बिन्द फरार है।
अभियुक्तों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में रविन्द्र कुमार वर्मा क्षेत्राधिकारी भुडकुडा गाजीपुर, घनानंद त्रिपाठी प्रभारी निरीक्षक थाना शादियाबाद, उपनिरीक्षक सुनील तिवारी प्रभारी सर्विलांश सेल गाजीपुर, उपनिरीक्षक संदीप दुबे थाना शादियाबाद तथा आरक्षी अजय कुमार गुप्ता, मनोज गुप्ता, संदीप पाण्डेय थाना शादियाबाद के अतिरिक्त सर्विलांश सेल के मुख्य आरक्षी शैलेन्द्र यादव तथा आरक्षी विकास श्रीवास्तव, सुजीत कुमार सिंह, राकेश सोनकर तथा अजय प्रसाद शामिल रहे।


Hits: 779

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: