एंबुलेंस में गुंजी किलकारी, जच्चा और नवजात सुरक्षित

गाजीपुर। उत्तर प्रदेश सरकार की 108 एंबुलेंस सेवा गरीबों सहित पीड़ित परिवारों के लिए वरदान साबित हो रही है। इसका ताजा उदाहरण सैदपुर ब्लॉक के परसनी गांव में गत 20 सितम्बर को देखने को मिला। वहां गर्भवती के प्रसव पीड़ा आरंभ होने पर 108 एंबुलेंस को सूचित किया गया। एंबुलेंस द्वारा स्वास्थ्य केंद्र ले जाते समय प्रसव वेदना तीव्र होने पर रास्ते में ही एंबुलेंस के अंदर ही सुरक्षित प्रसव कराना पड़ा।
एंबुलेंस प्रभारी मो. फरीद ने बताया कि सैदपुर ब्लॉक के परसनी गांव से प्रभात कुमार का फोन आया कि उनकी पत्नी की प्रसव पीड़ा हो रही है, जिसके लिए एंबुलेंस की जरूरत है। उनके बताए लोकेशन पर पायलट विशाल यादव और इमरजेंसी मेडिकल टेक्नीशियन सुनील कुमार यादव एंबुलेंस लेकर पहुंचे। वहां से गर्भवती और उनके परिजनों को एंबुलेंस में बैठाकर स्वास्थ्य केंद्र के लिए चले, लेकिन जैसे ही गांव के बाहर पहुंचे, गर्भवती की प्रसव बेदना बढ़ गई। जिसके बाद पायलट विशाल यादव के द्वारा एंबुलेंस को सड़क के किनारे रोक दिया गया। ईएमटी सुनील कुमार यादव और घर की महिलाओं के साथ गर्भवती का एंबुलेंस के अंदर ही प्रसव कराया गया। उसके पश्चात जच्चा और बच्चा को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सैदपुर ले जाकर भर्ती कराया गया। जहां पर डॉक्टरों ने दोनों की जांच की और जांच उपरांत दोनों को सुरक्षित बताया।


Hits: 35

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: