आशिकी में गयी अफसर की जान

दो हत्याभियुक्त आलाकत्ल के साथ गिरफ्तार


गाजीपु। कोतवाली जमानियां क्षेत्र के खिजिरपुर अलीनगर गांव के युवक अफसर उर्फ टीपू पुत्र अब्दुल कादिर की गत 30/31 जुलाई की रात अज्ञात अपराधियों द्वारा गला रेत कर की गई हत्या का पुलिस ने 36 घंटे के भीतर पर्दाफाश करते हुए दो अभियुक्तों को आलाकत्ल के साथ गिरफ्तार कर लिया। उक्त जानकारी पुलिस अधीक्षक रोहन पी बोत्रे ने अपने कार्यालय में पत्रप्रतिनिधियों को दी।
घटना का पर्दाफाश करने में लगी पुलिस टीम ने घटना स्थल पर जाकर बारीकी से साक्ष्य संकलन किया। मृतक के परिजनों के बयानों व तमाम स्वतंत्र गवाहों से प्रथम दृष्टया मामला आशनाई का होना पाया गया था।
पुलिस अधीक्षक द्वारा गठित टीमों व स्वाट टीम द्वारा लगातार किये गये साक्ष्य संकलन व मोबाइल नम्बरों के परिशीलन से पाया गया कि मृतक अफसर उर्फ टीपू का करीब एक साल पहले से अपने ही पड़ोस की एक लड़की साबिया (बदलाव हुआ नाम)से मोहब्बत करता था और उससे शादी करना चाहता था। इस बात को लेकर उस लड़की के परिवार से मृतक का झगडा भी हुआ था। गत 29 जुलाई को मृतक अफसर उर्फ टीपू मौका पाकर साबिया के घर के पास ही शाम को उसका दुपट्टा खींचते हुए अपने प्यार का इजहार किया। इस बात की जानकारी साबिया के भाइयों मेराज आलम व अरबाज पुत्रगण वलीउल्लाह को हुई। क्षुब्ध होकर दोनों भाइयों ने मृतक टीपू का काम तमाम करने की योजना बनायी। तीस जुलाई की रात्रि मेराज ने टीपू को मोबाइल पर बात करते हुये अपनी छत से देख लिया और दूसरे भाई अरबाज को अवगत कराते हुये साथ लेकर घर के सामने वाले गलियारे में आ गया और मृतक असरफ उर्फ टीपू को दीवाल से सटा कर खड़े खड़े ही गले पर चाकू से काट दिये। असरफ उर्फ टीपू मौके पर ही गिर गया और अधिक खून बह जाने से मृत्यू हो गयी। प्रातः जानकारी मिलने पर मृतक के भाई असरफ पुत्र अब्दुल कादिर द्वारा दी गयी तहरीर के आधार पर थाने पर मुकदमा पंजीकृत हुआ।
विवेचना के क्रम में एक अगस्त को समय करीब 20.30 बजे थाना क्षेत्र जमानियां के ताजपुर चट्टी से प्रभारी निरीक्षक व स्वाट् टीम द्वारा मुखबिर की सूचना पर अभियुक्त अरबाज व मेराज को गिरफ्तार किया गया तथा उनकी निशानदेही पर आलाकत्ल (चाकू) व अभियुक्तों द्वारा वारदात के समय पहने हुये कपड़े बरामद किया गया।
हत्याभियुक्तों को गिरफ्तार करने वाले टीम में एसएचओ थाना जमानियाँ वन्दना सिंह, उपनिरीक्षक कृपेन्द्र प्रताप सिंह, आरक्षी क्रान्ति सिंह पटेल, सुबाष यादव, महिला आरक्षी शालिनी पाठक थाना जमानियाँ जनपद गाजीपुर
तथा स्वाट टीम के उपनिरीक्षक सुनील तिवारी, मुख्य आरक्षी सुजीत सिंह, आरक्षी चन्दनमणि त्रिपाठी, विनय यादव,अजय प्रसाद व विकास श्रीवास्तव स्वाट् टीम शामिल रहे। सुनें पुलिस अधीक्षक की बाइट

Hits: 222

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: