साढ़े तीन कुन्तल अवैध गांजे व असलहे संग दो अन्तरराज्यीय तस्कर गिरफ्तार, प्रेस के फर्जी वाहन से फर्जी आईडी से देते थे पुलिस को धोखा

गाजीपुर। मादक पदार्थो की तस्करी रोकने में गाजीपुर पुलिस को बड़ी सफलता मिली है।
उक्त जानकारी पुलिस अधीक्षक रोहन पी बोत्रे ने शनिवार को मीडिया को दी। बताया गया कि गहमर थाना पुलिस व एस.ओ.जी. टीम द्वारा फर्जी रुप से प्रेस आईडी के बोर्ड लगे वाहन से दो अंतर्राज्यीय गांजा तस्करों को 350 किलो ग्राम गांजा व अवैध असलहा 12बोर मय जिन्दा कारतूस संग गिरफ्तार किया गया है।


पुलिस अधीक्षक द्वारा जनपद में नशीले तथा मादक पदार्थो की तस्करी पर रोकथाम हेतु चलाये गये अभियान के तहत, क्षेत्राधिकारी जमानियां के नेतृत्व में थाना गहमर पुलिस द्वारा बिहार बार्डर पर कर्मनाशा नदी पर चेकिंग की जा रही थी वहीं एस0ओ0जी0 प्रभारी मय टीम द्वारा अपराध की रोकथाम एवं अपराधियों की धर पकड़ हेतु कर्मनाशा नदी पर पहुँचे। पुलिस टीम अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु वार्ता कर रही थी कि उसी दौरान जनपद बक्सर बिहार राज्य की तरफ से एक चार पहिया बन्द वाहन आती हुयी दिखाई दी। वाहन पर प्रेस का बोर्ड लगा हुआ था। काफी संख्या में पुलिस बल को देखकर ड्राईवर द्वारा वाहन की रफ्तार बढ़ा दिया जिसको पुल पर आते ही बैंरियर लगाकर रोक लिया गया। वहां पुलिस टीम चारों तरफ से घेरकर खड़ी हो गयी। आवाज देने पर वाहन का गेट खोलकर दो व्यक्ति बाहर आये जिन्हे पकड़ लिया गया। ड्राइवर ने अपना नाम मोकीबुल हुसैन पुत्र अजीमुद्दीन हुसैन निवासी नगर मार्ग पोस्ट हौंली थाना हौंली जिला बरपेटा असम राज्य बताया, उसकी जामा तलाशी में अवैध तमंचा बरामद किया गया।
दूसरे ने अपना नाम महिदुल इस्लाम पुत्र अयूब अली निवासी नगरझार थाना हौंली जिला बरपेटा असम बताया। दोनों व्यक्तियों को असम राज्य का होने पर व वाहन पर प्रेस लिखा होने के कारण पुलिस टीम ने वाहन की तलाशी ली तो वाहन के आगे ड्राइवर के केबिन के पास एक मीडिया माईक जिस पर न्यूज नार्थ इस्ट लिखा हुआ मिला। वाहन के पिछले भाग की चेकिंग में, वाहन के अन्दर आयताकार काफी बंन्डल पड़े हुए मिले,जो टेप से रैंपर किये गये थे। बंन्डलो को काट कर देखा गया तो गांजे की गंध आ रही थी,कुल 33 बंन्डल बरामद किया गया। अभियुक्तों द्वारा पूछताछ में बताया गया कि यह गांजा हम लोग असम राज्य से लेकर आ रहे हैं जो रकीब डोमारी निवासी उदलपुरी जिला उदलपुरी द्वारा उपलब्ध कराया जाता है,तथा उ0प्र0 के विभिन्न जिलों में ऊंचे दामों पर सप्लाई किया जाता है। आज हम लोग इसको लेकर जनपद बलिया जा रहे थे। गाड़ी व प्रेस आईडी,माइक के बारे में पूछताछ किया गया तो बताया कि यह गाड़ी हम लोगो को रकीब डोमारी ही उपलब्ध कराया था। हम लोग रास्ते भर चेकिंग के दौरान प्रेस बताकर निकल आते हैं।
अभियुक्तों की गिरफ्तारी व बरामदगी के आधार पर थाना गहमर पर मुकदमा पंजीकृत कर न्यायालय के हवाले किया गया। पुलिस अधीक्षक ने पुलिस टीम की कामयाबी पर उसे बीस हजार रुपए के पुरस्कार से पुरस्कृत किया है।
गिरफ्तार करने वाली टीम में निरीक्षक विश्वनाथ यादव अति. निरीक्षक थाना गहमर,उपनिरीक्षक रामआसरे राय प्रभारी स्वाट टीम,उपनिरीक्षक त्रिवेणी प्रसाद तिवारी प्रभारी चौकी बारा थाना गहमर, उपनिरीक्षक अश्वनी प्रताप सिंह थाना गहमर व मुख्य आरक्षी द्वय अनिल कुमार पटेल थाना गहमर व सुजीत कुमार सिंह स्वाट टीम और आरक्षीगण संजय कुमार, संजय प्रसाद, सतीश व प्रमोद कुमार स्वाट टीम गाजीपुर और आरक्षीगण विनोद कुमार गौड़, प्रमोद कुमार, रोहित यादव, शैलेश कुमार, अनुज कुमार मौर्या, हरिशंकर पटेल तथा रत्नेश कुमार थाना गहमर गाजीपुर शामिल रहे।सुनें पुलिस अधीक्षक की बाइट ….

Hits: 136

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: