तूं डाल डाल मैं पात पात, पीड़ित पक्ष ने न्यायालय में लगाई गुहार,

मामला आर पी डायग्नोस्टिक सेंटर द्वारा फर्जी जांच रिपोर्ट का


गाजीपुर। सबका साथ-सबका विकास का नारा बुलन्द करनेवाली सरकार, जिले के स्वास्थ्य महकमें के आगे बौना बनकर रह गयी है। जिले में फर्जी डाक्टरों व जांच केन्द्रों की भरमार है और विभागीय अधिकारी सबकुछ जानते हुए भी उनके विरुद्ध कोई कारर्वाई नहीं करते क्योंकि सम्भवतः उनसे विभागीय अधिकारियों की जेब भरती रहती हैं।
स्वास्थ्य विभाग की लिपापोती से त्रस्त भुक्तभोगी ने विभागीय अधिकारियों की एक तरफा कारर्वाई से क्षुब्ध होकर न्यायालय की शरण ली।
जिले की सदर तहसील क्षेत्र के मिरदादपुर निवासी पीड़ित नीरज यादव ने बताया कि
गत 23 मई को शहर के विशेश्वरगंज स्थित आर पी डायग्नोस्टिक सेंटर द्वारा उसकी पत्नी रेखा यादव को पित्ताशय में पथरी होने की फर्जी रिपोर्ट देकर शीघ्र आपरेशन कराने की सलाह दे दी। इसके बाद पीड़ित ने जिला चिकित्सालय में अपनी पत्नी की जांच कराई तो वहां पित्ताशय में पथरी का नामोनिशान तक नहीं मिला। एक ही मरीज की दो अलग अलग रिपोर्ट देखकर पीड़ित पक्ष ने आर पी डायग्नोस्टिक सेंटर के विरुद्ध कारर्वाई के लिए जिलाधिकारी व मुख्य चिकित्साधिकारी से लिखित शिकायत की। आर पी डायग्नोस्टिक सेंटर के विरुद्ध दिये गए आवेदन को मुख्य चिकित्साधिकारी मामले को टालने में लगे रहे।
इसके बाद जिलाधिकारी मामले को संज्ञान लेते हुए मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया, तब मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने पीड़िता को अपने व मेडिकल टीम के समक्ष गत 6 जून को बुलाया और मरीज का अल्ट्रासाउंड जिला चिकित्सालय में किया गया। उस रिपोर्ट में मरीज के पित्ताशय में पथरी का कहीं नामोनिशान तक नहीं मिला। नौ जून को मेडिकल टीम की रिपोट आयी जिसमें कहीं पथरी होने का जिक्र तक नहीं था। इसके बावजूद 14 जून को मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय के द्वारा जारी पत्र में दर्शाया गया कि शिकायतकर्ता के जो भी आरोप आर पी डायग्नोस्टिक सेंटर पर लगाए गए थे, वे सत्य पाया गया।इसके बावजूद भी मुख्य चिकित्साधिकारी ने डायग्नोस्टिक सेंटर पर मेहरबानी करते हुए चेतावनी देकर क्लीन चिट दे दी।
पीड़ित पक्ष के पूछने पर सीएमओ ने कोई उचित जवाब नहीं दिया तब उन्होंने इसकी लिखित शिकायत पुलिस अधीक्षक से की। आगे कोई कारर्वाई न होते देखकर पीड़ित ने न्यायालय में गुहार लगाई और न्यायालय ने पीड़ित पक्ष को सुनकर कारर्वाई का आदेश दिया है।

Hits: 174

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: