गर्भवती के लिए वरदान बनी 102 एंबुलेंस

गाजीपुर। जिले में 102 एंबुलेंस में लगातार प्रसव होने के मामले मिल रहे हैं। ये एम्बुलेंस गर्भवती महिलाओं के लिए वरदान बन गयी हैं। ताजा मामला सैदपुर तहसील के तेतारपुर गांव का है। जब गर्भवती महिला को 102 एंबुलेंस में बैठाकर स्वास्थ्य केंद्र के लिए पायलट और ईएमटी जाने लगे, उसी दरम्यान प्रसव पीड़ा बढ़ने के कारण रास्ते में ही गर्भवती का प्रसव कराना पड़ा।
एंबुलेंस के ब्लॉक प्रभारी मो. फरीद ने बताया कि रविवार को आशा कार्यकर्ता नीरज के द्वारा 102 एंबुलेंस के लिए फोन किया गया। बताया गया कि तेतारपुर गांव की रहने वाली पुष्पा पत्नी बबलू को प्रसव पीड़ा हो रही है। इस जानकारी पर पायलट पिंटू यादव और इमरजेंसी टेक्नीशियन अरुण कुमार शुक्ला के साथ बताए गए लोकेशन पर 102 एंबुलेंस पहुंची। गर्भवती को एंबुलेंस में लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खानपुर की तरफ चले लेकिन रास्ते में पीड़ा बढ़ जाने के कारण आशा कार्यकर्ता नीरज और ईएमटी अरुण कुमार शुक्ल के साथ ही गर्भवती के परिजनों के सहयोग से एंबुलेंस के अंदर ही प्रसव कराना पड़ा। जिसके पश्चात जच्चा और बच्चा को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खानपुर पहुंचाया गया जहां पर डॉक्टरों ने दोनों को सुरक्षित बताया। प्रसुता के परिजनों ने आशा कार्यकर्ता नीरज और ईएमटी अरुण कुमार शुक्ल को उनके सहयोग के लिए धन्यवाद दिया।


Hits: 54

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: