ग्रामीण मीडिया कार्यशाला !पत्र सूचना कार्यालय के अपर महानिदेशक ने पत्रकार हितार्थ योजनाओं की दी जानकारी

गाजीपुर,27 फरवरी 2020। भारतीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के प्रेस इन्फारमेशन ब्यूरो के निर्देशन में जिला पंचायत सभागार में ग्रामीण पत्रकारों के हितार्थ ग्रामीण मीडिया कार्यशाला “वार्तालाप” का आयोजन सम्पन्न हुआ।
पत्र सूचना कार्यालय के अपर महानिदेशक आरपी सरोज के मुख्य आतिथ्य में आयोजित “वार्तालाप” कार्यक्रम में जनपद के ग्रामीण पत्रकारों को पत्रकार कल्याण योजनाओं से आच्छादित करने के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। पत्र सूचना कार्यालय भारत सरकार के अपर महानिदेशक आर.पी. सरोज ने कहा कि अत्यन्त पुराने पीआरबी एक्ट में परिवर्तन कर सरकार नया पीआरबी बिल तैयार किया गया है जिसे शीघ्र ही बिल के रूप में क्रियान्वित किया जाएगा।ग्रामीण पत्रकारों की उपयोगिता पर विस्तार से चर्चा करते हुए कहाकि भारत की 80 प्रतिशत आबादी देहातों में रहती है और वहां की समस्याएं और उसके निदान के संबंध में पत्रकारों की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण होती है । अनेकों बार हमें नीतियों के निर्धारण में ग्रामीण पत्रकारों द्वारा दिए गए सुझावों को महत्वपूर्ण स्थान पर रखना पड़ा है, इसके लिए ग्रामीण पत्रकार बधाई के पात्र हैं।इसके साथ ही कार्यशाला में उपस्थित विभिन्न जनपदीय अधिकारियों द्वारा अपने विभाग से सम्बन्धित जनोपयोगी योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी गयी। इससे पूर्व मुख्य अतिथि आरपी सरोज, मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रकाश गुप्ता,अपर पुलिस अधीक्षक, मुख्य चिकित्साधिकारी डा.जीसी मौर्या, सुचना प्रसारण मंत्रालय के उप निदेशक श्रीकांत श्रीवास्तव तथा ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के जिला महामंत्री डा.ए.के.राय द्वारा दीप प्रज्ज्वलन के उपरान्त कस्तुरबा गांधी आवासीय विद्यालय की छात्राओं द्वारा राष्ट्र गान तथा अतिथियों के लिए स्वागत गान से कार्यशाला का शुभारंभ हुआ। इसके उपरांत सूचना प्रसारण मंत्रालय के उपनिदेशक श्रीकांत श्रीवास्तव द्वारा मंचासीन अतिथियों तथा पत्रकार संगठनों के शीर्ष पदाधिकारियों व वरिष्ठ पत्रकारों को अंगवस्त्रम् तथा पुष्पगुच्छ प्रदान कर सम्मानित किया गया। पीआईबी के उच्चाधिकारियों द्वारा ग्रामीण पत्रकार हित के बारे में बताया गया कि प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व वेब पोर्टल के पत्रकाओं को “पत्रकार कल्याण योजना” लागू की गयी है। इसके अन्तर्गत गम्भीर बिमारियों से ग्रस्त पत्रकार के लिए सरकार द्वारा ढाई लाख तथा मौत की स्थिति में आपातकालीन आधार पर 5 लाख तक की एकमुश्त अनुकम्पा राशि प्रदान करने के बारे में विस्तार से जानकारी दी। बताया कि भारत सरकार ने प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के साथ वेब पोर्टल के पत्रकारों को भी उपरोक्त योजना से आच्छादित किया है।उनके अनुसार प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के साथ वेब पोर्टल के पत्रकार, सभी बराबर हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने वेब पोर्टल को मान्यता देना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि पत्रकार कल्याण योजना से जुड़ी समस्त जानकारियां व आवेदन प्रारुप पीआईबी की वेबसाइट पर उपलब्ध है।


इस कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी श्रीप्रकाश गुप्ता, डीपीआरओ अनिल सिंह, एसपी सिटी प्रदीप दूबे, एलडीएम यूबीआई सुरजकांत जी, जिला कृषि अधिकारी मृत्युंजय सिंह सहित कई विभागों के अधिकारी गण मौजूद रहे।

कार्यक्रम के संयोजक दूरदर्शन संवाददाता श्रीराम राय कमलेश के अथक प्रयास से आयोजित कार्यक्रम में जनपद के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों के पत्रकारगणों ने सहभागिता कर कार्यक्रम को बुलन्दियों तक पहुंचाया।

कार्यक्रम में सतेन्द्र शुक्ला,आर एन राय ,के एन शर्मा, शिवकुमार कुशवाहा, आशुतोष त्रिपाठी, अनिल उपाध्याय, नीरज यादव ,उपेन्द्र यादव,विनय कुमार सिंह, सूर्य कुमार सिंह,रविन्द्र श्रीवास्तव सहित सैकड़ों की संख्या में पत्रकारगण उपस्थित रहे।कार्यशाला का परिचयात्मक संचालन वरिष्ठ पत्रकार के के यादव, आभार अभिनन्दन दूरदर्शन प्रतिनिधि श्रीराम राय तथा सम्पूर्ण संचालन पीआईबी के उप निदेशक श्रीकांत श्रीवास्तव ने किया।

Hits: 102

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: