प्रतिभा सुविधा की मोहताज नहीं, डाकिया की बेटी ने बढ़ाया क्षेत्र का गौरव

गाजीपुर। प्रतिभा किसी की मोहताज नही होती है।प्रतिभा कब क्षितिज पर पहुंचकर अपना परचम लहरा दे ,यह उसकी सफलता के बाद ही  पता चलता है। कुछ ऐसा ही कर दिखाया है मनिहारी विकास खण्ड के शादियाबाद क्षेत्र के एक डाकिये की पुत्री ने।शादियाबाद क्षेत्र के कस्बा कोइरी ग्राम पंचायत निवासी पोस्टमैन राममूर्ति कुशवाहा की पुत्री राजलक्ष्मी कुशवाहा का चयन शिक्षाशास्त्र विषय से जेआरएफ (जूनियर रिसर्च फेलोशिप) में हुआ है। अपने कठिन परिश्रम और लगन के बल पर राजलक्ष्मी ने जेआरएफ में चयनित होकर परिजनों व जनपद को गौरवान्वित किया है।
उसने प्रारम्भिक शिक्षा सरस्वती विद्या मंदिर और इण्टर तक की शिक्षा जवाहरलाल नेहरु स्मारक इंटर कालेज शादियाबाद से की। राजलक्ष्मी ने दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन करने के बाद समता पीजी कालेज सादात  से शिक्षाशास्त्र विषय से वर्ष 2016 में एमए उत्तीर्ण किया। पिता और गुरुजनों के आशीर्वाद तथा मित्रों के सहयोग से उसने दूसरे प्रयास में जेआरएफ में स्थान प्राप्त किया है। पहली बार वह नेट ही क्वालीफाई कर सकी थी।उसकी इस सफलता पर परिजनो, गुरुजनों व शुभेच्छुओं ने बधाई देते हुए उसके उज्जवल भविष्य की कामना की है।खाली समय में ऐतिहासिक व सामाजिक किताबें पढ़ने का शौक रखने वाली राजलक्ष्मी ने अपनी सफलता का श्रेय परिजनों व गुरुजनों के साथ ही मित्रों को दिया है। पीएचडी की तैयारी में जुटी राजलक्ष्मी दो भाई व छह बहनों में पांचवें नंबर पर है। समता पीजी कालेज परिवार ने भी उसकी इस सफलता पर हर्ष व्यक्त करते हुए उसके उज्जवल भविष्य की शुभकामना व्यक्त की है।


Hits: 111

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: