जालसाजी कर महिला के खाते से रुपये उड़ाने वाले तीन गिरफ्तार, एक फरार

गाजीपुर। जालसाजी और धोखाधड़ी कर महिला के खाते से ग्राहक सेवा केन्द्र से निकाले गये 25000/- रुपये से सम्बन्धित तीन अभियुक्तों को, बरेसर थाना पुलिस व साइबर के संयुक्त टीम ने गिरफ्तार कर लिया।
बताते चलें कि गुड़िया देवी पत्नी रामअशीष ग्राम बसंतपुर थाना जंगीपुर जनपद गाजीपुर के अधार कार्ड के नम्बर लेकर व उसका फर्जी तरीके से फ्रिंगर प्रिंट बनाकर उसके खाते से ग्राहक सेवा केन्द्र लखनौली से पच्चीस हजार रूपए निकाले गये थे।
पुलिस अधीक्षक के निर्देशन मे चलाये जा रहे साइबर अपराध, मादक पदार्थो की तस्करी, वांछित/इनामियां अपराधियों, चोरों/लुटेरों आदि के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के क्रम में संयुक्त टीम ने साइबर अपराध से सम्बन्धित घटना में संलिप्त अभियुक्तगण अजीत कुमार पुत्र मोतीराम निवासी ग्राम अख्तियारपुर थाना नोनहरा जनपद गाजीपुर,राज कुमार उर्फ राजा पुत्र चंदीप राम ग्राम चटाईपारा थाना नोनाहरा जनपद गाजीपुर, धर्मेन्द्र राजभर उर्फ राजू पुत्र अमृत राजभऱ एवं ग्राहक सेवा केन्द्र अरखपुर के संचालक रंजीत यादव पुत्र ओमप्रकाश यादव निवासी गण ग्राम अख्तियारपुर थाना नोनहरा जनपद गाजीपुर रहे। इनमें से मुख्य अभियुक्त अजीत कुमार पुत्र मोतीराम निवासी ग्राम अख्तियारपुर थाना नोनहरा जनपद गाजीपुर घटना के बाद से ही फरार है जिसकी गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीम प्रयास कर रही है।
इनके द्वारा गुड़िया देवी पत्नी रामआशीष कुशवाहा निवासी ग्राम बसंतपुर थाना जंगीपुर जनपद गाजीपुर के खाते से ग्राहक सेवा केन्द्र लखनौली से निकाले गये 25000/- रुपये मे से 24000/- रुपये बरामद किए गए। पुलिस टीम ने रात करीब एक बजे अभियुक्त राज कुमार उर्फ राजा पुत्र चंदीप राम ग्राम चटाईपारा थाना नोनहरा जनपद गाजीपुर को घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल नम्बर यूपी 61 एपी 1890 के साथ गिरफ्तार करते हुए अन्य सहअभियुक्तों को उनके गांव के पास से गिरफ्तार किया गया।
गिरफ्तार अभियुक्तो से पुछ-ताछ पर ज्ञात हुआ कि इन लोगों द्वारा उक्त ग्राहक सेवा केन्द्र पर पैसा निकालते समय गाँव देहात की महिलाओं अथवा कम पढ़े लिखे लोगो का अधार नम्बर चोरी कर एवं उनके फिगंर प्रिंट का स्क्रीन शाँट लेकर फर्जी तरीके से इलेक्ट्रानिक संसाधनों के माध्यम से रबर का फिगंर प्रिंट बनवाकर उसका प्रयोग कर लोगों के खाते से पैसे निकाले जाते हैं।
गिरफ्तार अभियुक्तों में राज कुमार उर्फ राजा पुत्र चंदीप राम, धर्मेन्द्र राजभर उर्फ राजू पुत्र अमृत राजभऱ तथा रंजीत यादव पुत्र ओमप्रकाश यादव के विरुद्ध विधिक कार्यवाही करते हुए उन्हें न्यायालय में पेश किया गया।
जालसाजों को गिरफ्तार करने वाली टीम में
पुलिस टीम बड़ेसर में उपनिरीक्षक अनिल कुमार मिश्रा व गजेन्द्र राय, मुख्य आरक्षी प्रमोद कुमार, आरक्षी दिवाकर सिंह, अशोक कुमार, पुष्पराज, प्रेमनरायण, अनिल कुमार एवं साईबर टीम में उपनिरीक्षक वैभव मिश्र तथा आरक्षी मुकेश कुमार, राजकुमार, विकास श्रीवास्तव व शिव प्रकाश शामिल रहे। बाइट पुलिस अधीक्षक रोहन पी बोत्रे..


Hits: 207

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: