विद्यार्थी है साधक तो अध्ययन है साधना

गाजीपुर। जखनियां तहसील क्षेत्र के जाहीं स्थित के पी पब्लिक स्कूल का सत्रहवाँ स्थापना दिवस विविध कार्यक्रमों के साथ ससमारोह मनाया गया।
इस अवसर पर विद्यालय परिवार ने छात्रों और अविभावकों से संवाद स्थापित कर स्थापना दिवस की बधाई दी तथा छात्र छात्राओं को अनुशासन,लगन और निष्ठा के साथ लक्ष्य प्राप्ति तक अध्ययनरत रहने का संदेश दिया।
अपने सम्बोधन में डा.आनन्द कुमार ने कहा कि स्कूली शिक्षा का जीवन में महत्वपूर्ण स्थान है। शिक्षा मनुष्य के अंतर्मन में अच्छे विचारों को उत्पन्न करती है तथा बुरे विचारों का विरेचन कर पशु से मनुष्य बनाती है। वास्तव में पशु से ऊपर उठने की प्रक्रिया का नाम शिक्षा है। ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए जिस शिक्षण संस्थान की स्थापना 15 जुलाई वर्ष 2005 में शिक्षाविद पं.रामप्रसाद मिश्र द्वारा की गई थी, यह विद्यालय ग्रामीण छात्रों एवं छात्राओं की शिक्षा सम्बन्धी आवश्यकताओं की पूर्ति करते हुए उत्तरोत्तर विकास की ओर उन्मुख है। इस संस्था का मूल उद्देश्य धनार्जन नहीं ज्ञान का प्रसार है।संस्था राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतिभाओं को चिन्हित कर उनके विकास में सहायक बनने के लिए कटिबद्ध है। पीजी कॉलेज भुड़कुड़ा के प्रो.संतोष कुमार मिश्र ने प्रगति के पथ पर निररंतर आगे बढ़ रहे विद्यालय के विभिन्न आयामों पर प्रकाश डालते हुए विद्यालय परिवार को बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह गर्व की बात है कि सत्रह वर्षों की यात्रा के दौरान इस संस्था से निकले छात्र आज बैंक,शिक्षण, पुलिस व सेना में चयनित होकर राष्ट्र और समाज को अपनी सेवाएं दे रहे हैं। यह सब संकल्प शक्ति के बल पर सम्भव हो सका है। दुखहरन सिंह यादव ने विद्यालय परिवार के प्रति शुभकामना व्यक्त करते हुए छात्र छात्राओं से कड़ी मेहनत के साथ शिक्षा ग्रहण करने की सीख दी।
इस अवसर पर प्रमुख रूप से सर्वश्री जगदीश यादव, संतोष यादव, अमित गिरी, नंदलाल यादव सहित काफी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित रहे। अतिथियों का स्वागत तथा आभार ज्ञापन कार्यक्रम के अध्यक्ष प्रधानाचार्य प्रमोद कुमार मिश्र ने किया।


Hits: 52

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: