विद्यालय की छत से गिरकर विद्यालय संचालक की मौत

गाजीपुर। विद्यालय की छत पर रात में सोने गये, विद्यालय संचालक के युवा पुत्र का शव अलसुबह विद्यालय के मुख्य द्वार के बगल में गिरा देख लोग हक्का बक्का रह गये और वहां लोगों की भीड़ लग गयी। इस सूचना पर, विद्यालय से कुछ दूर स्थित उनके पैतृक आवास से उनके परिजश भागते हुए मौके पर पहुंचे और स्थिति देखकर चित्कार कर उठे। उनके करुण क्रंदन से वहां का माहौल गमगीन हो गया।
यह घटना करंडा थानान्तर्गत बापू रामनरेश इंटर कालेज परमेठ पर शुक्रवार की रात में किसी वक्त घटी।
बताया गया कि बापू रामनरेश इंटर कालेज परमेठ के संचालक रामविलास यादव का इकलौता पैंतीस वर्षिय पुत्र रजनीश यादव रात में रोजाना विद्यालय में ही सोते थे। शुक्रवार की रात भी वे घर से विद्यालय पर सोने चले गये थे और छत पर सोये थे। शनिवार की अलसुबह विद्यालय की तरफ से गुजरते लोगों ने विद्यालय के फाटक के बाहरी तरफ रजनीश को गिरा देखा तो इसकी सूचना उनके परिजनों को दी। यह सुनकर उनके परिजन भागते हुए मौके पर पहुंचे और वहां की स्थिति देखकर सन्न रह गये। रजनीश की मौत हो चुकी थी और शव वहां गिरा पड़ा था। आशंका व्यक्त की जा रही थी कि सम्भवतः रजनीश रात में अचानक उठे होंगे और नींद के कारण छत से नीचे गिर गये होंगे और चोट के कारण उनकी मौत हुई होगी।
यह सुनकर परिवार में हड़कंप मच गया और लोग भागते हुए मौके पर पहुंचे। वहां की स्थिति देखकर मृतक की पत्नी बबीता सहित अन्य परिजन दहाड़े मारकर रोने लगे। मृतक की दो संतानों में एक पुत्री व एक पुत्र है। पत्नी बबीता के आंसू घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना के बावत पूछताछ के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेंज दिया। थानाध्यक्ष कौशलेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि प्रथम दृष्टया यह दुर्घटना ही प्रतीत होता है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही मृत्यु के कारण का पता चलेगा।


Hits: 228

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: