कुल नौ पारिवारिक विवाद हुए प्रस्तुत तो 5 परिवारों की हुई विदाई

गाजीपुर। पुलिस लाइन में संचालित परिवार परामर्श केंद्र में रविवार को कुल 9 परिवारिक विवाद प्रस्तुत हुए।
रविवार को संचालित कारर्वाई में सरीमा पत्नी प्रमोद बिंद निवासी धरवां थाना नंदगंज गाजीपुर की शिकायत रही कि उसके पति व ससुराल पक्ष, लोगों की बातों को सुनकर हमेशा मारपीट करते रहते हैं। इस पर पति एवं ससुराल पक्ष के लोगों को समझा कर विदाई करवाई गई। कोशिला राजभर पत्नी चंदन राजभर निवासी महनाजपुर थाना मेहनाजपुर जनपद आजमगढ़ की शिकायत थी कि उसके पति उसकी शिक्षा के लिए आर्थिक मदद किए थे लेकिन वह शिक्षा नहीं ले पाई जिसके कारण पति नाराज होकर दूरी बनाने लगे इस पर पति को समझा कर विदाई करवाई गई। रेशमा परवीन पत्नी सद्दाम सिद्दीकी की शिकायत थी कि उसके पति वैचारिक रूप से प्रताड़ित करते रहते हैं तथा बार-बार दूसरी शादी करने की धमकी देते रहते हैं इस पर पति को समझा कर विदाई करवाई गई। कुसुम देवी पत्नी संजय यादव निवासी पनिया थाना मोहम्मदाबाद गाज़ीपुर की शिकायत थी कि उसके ससुर उसके साथ हमेशा छेड़खानी करते रहते हैं इस पर पति तथा ससुर को विधिवत समझा कर विदाई करवाई गई। आरती देवी पत्नी अखिलेश बिंद निवासी सराय शरीफ थाना नंदगंज गाज़ीपुर की शिकायत थी कि उसका देवर अकारण ही उसे मारता पीटता रहता है। जब वह पति से शिकायत करती है तब पति उसे ही मारने पीटने लगता है। इस पर पति तथा देवर को समझा कर विदाई करवाई गई।
विवादों के निस्तारण के लिए सरिता गुप्ता, विक्रमादित्य मिश्र ,वीरेंद्र नाथ राम महिला आरक्षी रोली सिंह, रागिनी चौबे, महिला होमगार्ड उर्मिला गिरी ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। दो पारिवारिक विवादों के प्रकरण में अगली तिथि निर्धारित की गई तथा एक पारिवारिक विवाद में विधिक कार्यवाही का सुझाव दिया गया तो वहीं एक पारिवारिक विवाद में दोनों पक्ष अनुपस्थित रहे।


Hits: 144

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: