आपातकालीन सेवा – नंबर एक, सेवाएं अनेक

यूपी-112 की योजनाओं से रूबरू हो रहे हैं तीन जिलों के नागरिक


गाजीपुर। एडीजी-112 अशोक कुमार सिंह के निर्देशन में चार दिवसीय जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन वाराणसी, गाजीपुर और मिर्जापुर में आरम्भ किया गया है। इस मौके पर यूपी- 112 मुख्यालय से अपर पुलिस अधीक्षक मोहिनी पाठक, मीडिया सेल प्रभारी करुणा शंकर सिंह और विपिन शुक्ल के नेतृत्व मे टीमें स्थानीय पुलिस के सहयोग से नागरिकों को 112 की विभिन्न योजनाओं से अवगत करा रही हैं।
नंबर एक, सेवाएं अनेक
चार दिवसीय जागरूकता कार्यक्रम के माध्यम से नागरिकों को बताया जाएगा कि किसी भी आपात स्थिति मे नागरिक सिर्फ यूपी-112 पर कॉल करके विभिन्न सेवाओं का लाभ ले सकते हैं। 112 के माध्यम से पुलिस सहायता के अतिरिक्त आग लगने पर अग्निशमन वाहन, दुर्घटना होने पर एम्बुलेंस और प्राकृतिक आपदा के समय एसडीआरएफ के सेवाएं नागरिक ले सकते हैं। इसके अतिरिक्त आवश्यकता पड़ने पर चलती ट्रेन मे भी आपात सहायता 112 के माध्यम से ली जा सकती है।
महिलाओं और बुजुर्गों की सामाजिक सुरक्षा का ध्यान
महिलाओं और बुजुर्गों की सामाजिक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यूपी-112 द्वारा विशेष तौर पर योजनाएं संचालित की जा रही हैं। घरेलू हिंसा से प्रभावित महिलाओं को त्वरित सहायता प्रदान करने के लिए पीड़ित महिलाओं का 112 मे पंजीकरण किया जाता है, ताकि आवश्यकता पड़ने पर पुलिस प्रबल प्रतिक्रिया दे सकें। इसके अतिरिक्त रात्रि में 10 बजे से सुबह 6 बजे तक अकेली महिला अपने गंतव्य तक जाने के लिए 112 पर कॉल कर पुलिस सहायता ले सकती है। अकेले रहने वाले बुजुर्गों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए ‘सवेरा’ योजना 112 द्वारा चलाई जा रही है। प्रदेश मे कहीं से भी बुजुर्ग यूपी-112 पर कॉल करके अपना पंजीकरण करवा कर सवेरा योजना का लाभ ले सकते हैं।

Hits: 57

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: