पत्रकार रत्न सम्मान से सम्मानित हुए जिले के वरिष्ठ पत्रकार

गाजीपुर। हिन्दी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर  पत्रकार हितों की रक्षा के लिए राष्ट्रीय स्तर पर कार्यरत पत्रकार संगठन “जर्नलिस्ट कौंसिल आफ इंडिया” ने जिले के वरिष्ठ पत्रकारों को “पत्रकार रत्न सम्मान” से सम्मानित किया है।
     जर्नलिस्ट कौंसिल आफ इंडिया के वरिष्ठ पत्रकार डा.ए.के.राय ने हिन्दी पत्रकारिता के इतिहास पर प्रकाश डालते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश के कानपुर निवासी पंडित युगल किशोर शुक्ला ने 30 मई 1826 को कोलकाता के कोलूटोला के आमणतल्ला गली से ”उदन्त मार्तण्ड” नामक हिंदी समाचार पत्र का प्रकाशन किया। उसे देश के प्रथम हिन्दी समाचार पत्र का गौरव मिला। इसीलिए प्रत्येक वर्ष तीस मई को पत्रकारिता दिवस मनाया जाता है।
         प्रमोद कुमार राय ने पत्रकारों पर लगातार बढ़ रहे उत्पीड़न व उपेक्षा को रोकने के लिये अलग कानून बनाये जाने की मांग उठायी। गोष्ठी में वक्ताओं ने पत्रकारिता से जुड़े तमाम बिन्दुओं व चुनौतियों पर अपना पक्ष रखा और सरकार से पत्रकार हितों की रक्षा के लिए पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने की वकालत की।
      गोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए सत्येन्द्र नाथ शुक्ला ने कहा कि आरम्भ में मिशन के रुप में आरम्भ हुई पत्रकारिता आज बदलते परिवेश में व्यवसायिक रुप धारण कर चुकी है। संचार माध्यमों के विस्तार के चलते पत्रकारिता का क्षेत्र और व्यापक होता जा रहा है। पत्रकार सभ्य समाज का प्रहरी, दिग्दर्शक व स्वछन्द चिंतक माना गया है। पत्रकार का कार्य संकीर्ण भावनाओं से ऊपर उठकर निष्पक्ष व प्रभावी लेखनी द्वारा सही व स्पष्ट विचार जनता व शासन प्रशासन के सामने लाना होता है, जिससे राष्ट्र प्रगति के पथ पर अग्रसर हो।     जिले के सम्मानित होने वाले पत्रकारों में डा.ए.के.राय, सत्येन्द्र नाथ शुक्ला, प्रमोद कुमार राय, उधम सिंह, अशोक कुमार श्रीवास्तव, गुलाब राय तथा नीरज यादव रहे।


Hits: 56

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: