पारिवारिक कलह से घर छोड़कर फरार व्यवसायी  का शव फरेन्दा रेलवे स्टेशन पर मिला

गाजीपुर। जिले के दुल्लहपुर बाजार के किराना के थोक व्यापारी जयप्रकाश मद्धेशिया के छोटे पुत्र मनीष गुप्ता सोनू का शव महराजगंज जिले के फरेन्दा रेलवे जंक्शन पर शुक्रवार को दुर्ग नौतनवा एक्सप्रेस ट्रेन में मिला था। जिसको रेलवे पुलिस ने फरेन्दा स्टेशन पर उतारकर लावारिश हालत में पोस्टमार्टम हेतु भेजा था।
बताया गया कि 26 फरवरी की शाम परिवारिक कलह से खिन्न होकर मनीष परिजनों को बगैर बताये कहीं चले गए। खोजबीन करने पर लोगों ने बताया कि उन्हें शाम की इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन पर चढ़ते हुए देखा था। इस जानकारी के बाद परिजनों व दोस्तो द्वारा काफी खोजबीन की गई लेकिन कही भी मनीष गुप्ता का पता नही चला। मृतक के पिता जयप्रकाश मद्घेसिया ने दुल्लहपुर थाने पर शनिवार को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उसके बाद मीडिया,फेसबुक,टिवटर के माध्यम से लापता की खबर प्रमुखता से चली। उसका पता लगाने परिजन तांत्रिक की शरण में भी पहुंचे और तांत्रिक ने
बताया कि सोमवार को शाम तक मनीष लौट आयेगा।
इसी दरम्यान आज सोमवार की सुबह सोशल मीडिया,टिवटर से मनीष की शव की सूचना मिली।सूचना मिलते ही परिवार में हाहाकार मच गया।
उल्लेखनीय है कि मृतक मनीष गुप्ता की शादी वर्ष 2013 में प्रियंका से हुई थी तथा उसकी 5 वर्ष की पुत्री पीहू है। मृतक मनीष के बड़े भाई संजीव,राजीव व दिलीप हैं जो अपने व्यवसाय करते हैं। उनके शव पाये जाने की सूचना मिलने के बाद उद्योग व्यापार मंडल के अध्यक्ष राजेश मद्धेशिया,लालजी यादव, राहुल साहू,सुनील मद्धेशिया,पारस गुप्ता,राजेन्द्र राम,मधुसूदन पाण्डेय, गुड्डु सोनकर,अनिल पाण्डेय,सुधीर गुप्ता, सुरेश साहू, अजय साहू आदि लोगों ने उनके घर पहुंच कर परिवार को सांत्वना दी।


रिपोर्ट – संजय चौबे

Hits: 92

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: