संघ प्रमुख मोहन भागवत ने सिद्धपीठ में वृद्धम्बिका माता का किया पूजन अर्चन 

चातुर्मास महायज्ञ में रुद्राभिषेक कर लोक कल्याणार्थ मांगा आशीष 

गाज़ीपुर । ऋषि मुनि के अनुसंधान (शोध) व सत्य के बल पर ही हम दुनियां के सबसे बड़े ट्रस्टी बने। हमने अपने किसी परम्परा, विधा या विद्या का पेटेंट नहीं कराया, बल्कि दुनियां में घूमकर लोगों को सुखी रहने का ज्ञान दिया।     ।      उक्त वक्तव्य संघ प्रमुख मोहन भागवत ने शिव संकल्प संवाद कार्यक्रम में आम जन मानस को संबोधित करते हुए दिया। आगे उन्होंने कहा कि मनुष्य को शीलवान होना चाहिए। अध्यात्म जीवन जीने का संदेश देता है। संतुष्टि के बाद वैराग्य और वैराग्य के पश्चात ही भगवान की प्राप्ति होती है। ऋषि मुनि के अनुसंधान (शोध) व सत्य के बल पर ही हम दुनियां के सबसे बड़े ट्रस्टी बने। हमने अपने किसी परम्परा, विधा या विद्या का पेटेंट नहीं कराया, बल्कि दुनियां में घूमकर लोगों को सुखी रहने का ज्ञान दिया।                       सरसंघचालक ने कहा कि सिद्धपीठ हथियाराम आध्यात्मिक उर्जा का केन्द्र है। यहां के महंत स्वामी भवानी नन्दन यति और अधिष्ठात्री देवी का दर्शन कर मैं स्वयं रीचार्ज हो जाता हूं। यहां आकर मन को शांति मिलती है। उन्होंने कहा कि अगली बार जब भी आऊंगा तो दो दिन के लिये आऊंगा। संघ प्रमुख ने कहा कि साधु-संतो के सानिध्य में रहने से मन में हमेशा शुभ संकल्प का वास होता है और शुभ संकल्प अर्थात अच्छे मन से किया गया कार्य सदैव सफल होता है।उन्होंने पर्यावरण की महत्ता पर कहा कि पर्यावरण की उन्नति में ही हमारी व देश की उन्नति समाहित है।                               इसके साथ ही राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख ने दस विशिष्ठ लोगों को सम्मानित किया जिसमें परमवीर चक्र विजेता वीर अब्दुल हमीद के पुत्र जैनुल बसर, महावीर चक्र विजेता स्व.  रामउग्रह पांडेय की पुत्री सुनीता पांडेय, स्वतंत्रता सेनानी स्व. जीतन पांडेय के पुत्र मिश्री पांडेय, अलगू यादव के परिवार से रामप्रसाद यादव, शहीद संजय यादव की पत्नी राधिका यादव, मुहम्दाबाद के अष्टशहीद वशिष्ठ राय के पौत्र अंकुर राय, जिले में लावरिस शवों की अंत्येष्टि करने वाले वीरेन्द्र सिंह, पर्यावरणविद रणधीर यादव, शैक्षणिक कार्य करने वाली उषा बनवासी शामिल रहीं। उधर शहीद सेवा सम्मान समिति की तरफ से श्रीराम जायस वाल ने संघ प्रमुख को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया।

  

        बताते चलें कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रमानुसार बुधवार को सिद्ध पीठ हथियाराम मठ पधारे। बैण्ड बाजे व जय श्री राम के नारे के बीच के साथ, उमड़ी भारी भीड़ के मध्य संघ प्रमुख सुसज्जित मठ में प्रवेश किया, जहां आचार्यों ने वैदिक मंत्रोच्चार से उनका स्वागत किया।

      उल्लेखनीय है कि संघ प्रमुख पांच दिवसीय प्रवास कार्यक्रम अंतर्गत काशी आये हैं, जिसके अंतर्गत सिद्धपीठ पर बुधवार से लगभग बाइस घंटे का प्रवास कार्यक्रम है।

         संघ प्रमुख के मठ पर पहुंचते ही महंत पवाहारी बालकृष्ण यति कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय की छात्राओं ने पुष्प बरसाकर व मां जगतजननी जगदम्बा की स्तुति “अयि गिरिनन्दिनी नन्दितमेदिनी विश्वविनोदिनी नन्दिनुते।गिरिवर विन्ध्य शिरोधिनिवासिनि विष्णुविलासिनी जिष्णुनुते।।” द्वारा करते हुए पूरे वातावरण को भक्तिमय बना दिया।

       वैदिक मंत्रोच्चार के बीच हथियाराम मठ के महंत एवं जूना अखाड़ा के वरिष्ठ महामंडलेश्वर स्वामीश्री भवानी नन्दन यति जी महाराज व आचार्य के सानिध्य में वैदिक मन्त्रोच्चार के बीच जगत जननी की विधिवत पूजा-आराधना किया।

             दोपहर बाद संघ प्रमुख ने महाराज श्री के चातुर्मास महायज्ञ में भाग लिया। वहां उन्होंने एकादश वैदिक ब्राह्मणों के वैदिक मंत्रोच्चार के बीच देवधिदेव महादेव की आराधना-वंदना कर  हुए रुद्राभिषेक किया। यज्ञाचार्य पंडित विनोद उपाध्याय के निर्देशन में वैदिक ब्राह्मणों द्वारा किये जा रहे मन्त्रोच्चार से समूचा अंचल गुंजायमान हो उठा। 

       कार्यक्रम की व्यवस्था में मठ प्रशासन से जुड़े लोगों व श्रद्धालुओं के साथ ही साथ प्रशासनिक अमला पिछले कई दिनों से जुड़ा रहा। व्यवस्था में जिलाधिकारी आर्यका अखौरी पुलिस अधीक्षक ओमवीर सिंह सहित क्षेत्राधिकारी सहित काफी संख्या में प्रशासनिक अधिकारी तथा भारी पुलिस फोर्स तैनात रही। कार्यक्रम में देवरहा बाबा बिरनो, डा. रत्नाकर त्रिपाठी, संघ के प्रांत प्रचारक रमेश जी, विधान परिषद सदस्य विशाल सिंह चंचल, जिला पंचायत अध्यक्ष सपना सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष भानू प्रताप सिंह, सादात ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि संतोष यादव, डा. संतोष मिश्र, पंकज सिंह, प्रवीण सिंह, अच्छेलाल गुप्ता, सरोज कुशवाहा, विपिन सिंह, संकठा प्रसाद मिश्र, रामचंद्र, मुनीश, राजेन्द्र, मुरली पाल, राकेश, सच्चिदानंद, शिवनारायण, पुजारी सर्वेश मिश्रा, लवटू प्रसाद, डा. अमिता दूबे, डा. सानंद सिंह, हरिश्चंद्र सिंह, सहित काफी संख्या में गणमान्यजन व कन्या महाविद्यालय की छात्राएं व समस्त स्टाफ तथा मठ से जुड़े अनेक शिष्यगण व मीडिया से जुड़े पत्रकार बन्धु उपस्थित रहे। मंचीय कार्यक्रम का सफल संचालन ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि सादात संतोष यादव ने किया।

Views: 645

Leave a Reply