हर्षोल्लास से मनायी गयी विश्वकर्मा जयन्ती

गाजीपुर। श्रम, शिल्प व सृजन के आदिदेव एवं वास्तु सृजक देवशिल्पी भगवान विश्वकर्मा जयन्ती आज ससमारोह मनायी गयी।
    विश्वकर्मा जयन्ती के अवसर पर सभी यांत्रिक संस्थानों, कल कारखानों सहित छोटे बड़े सभी कार्यशालाओं में भगवान विश्वकर्मा की मूर्ति या चित्र रखकर श्रद्धा भाव से पूजन अर्चन किया गया।
     आज विश्वकर्मा पूजा के अवसर पर पुलिस अधीक्षक डा.ओमप्रकाश सिंह द्वारा पुलिस लाइन स्थित शस्त्रागार पर शस्त्रों की पूजा व हवन किया गया।



   जिला पंचायत सभागार में विश्वकर्मा दिवस के अवसर पर विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजनान्तर्गत लाभार्थियों को टूल किट एवम प्रधान मंत्री मुद्रा लोन वितरण कार्यक्रम सदर विधायक डा.संगीता बलवंत द्वारा किया गया।


     उल्लेखनीय है कि विश्वकर्मा देव को सभी शिल्पकारों और रचनाकारों का इष्टदेव व ब्रह्मांड का रचयिता तो आज के समय में उन्हें सर्वश्रेष्ठ इंजीनियर माना जाता है। कहा जाता है कि उन्होंने अपनी वुद्धि, विवेक तथा कल्पना शक्ति के बल पर अनेकों अविस्मरणीय भवनों का निर्माण कर अपनी मेधा का परिचय दिया था। उन्होंने ही देवताओं के अस्त्र-शस्त्र, महल आदि का निर्माण किया था।           
    मान्यता है कि सतयुग में स्वर्ग लोक, त्रेता युग में सोने की लंका, द्वापर में द्वारिका और कलयुग में भगवान जगन्नाथबलभद्र और सुभद्रा की विशाल मूर्तियां के साथ ही सात यमपुरी, वरुण पुरी, पांडव पूरी, शिव मंडल पूरी, सुदामापुरी आदि का निर्माण विश्वकर्मा ने ही किया था।

Hits: 12

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: