इलाज के दौरान घायल फौजी की हुई मृत्यु, घर में मचा कोहराम

गाजीपुर। असम के नागराहुला-सोनितपुर में सेना की गाड़ी पलटने से घायल जिले के लाल ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। मृतक तेइस वर्षीय युवक अभिषेक यादव पुत्र रामजन्म यादव सादात थाना क्षेत्र के वृंदावन गांव का निवासी था।
   सेना के जवान की मृत्यु की जानकारी मंगलवार की शाम मिली। इस खबरके मिलते ही गांव में कोहराम मच गया। घर में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है।
  पहले से ही असम में मौजूद फौजी के पिता व भाई द्वारा पार्थिव शरीर लेकर गुरुवार को पैतृक गांव पहुंचने की उम्मीद है।
   बताते चलें कि सादात ब्लाक अंतर्गत वृन्दावन गांव निवासी रामजन्म यादव का पुत्र अभिषेक यादव वर्ष 2019 में फौज में सिपाही के पद पर भर्ती हुआ था। इन दिनों उसकी तैनाती असम में  थी। उसके बड़े भाई हरिकेश यादव ने बताया कि 29 मई शनिवार को उन्हें सूचना मिली कि असम में पहाड़ी पर लगे सैनिक कैम्प से नीचे उतरते समय अनियंत्रित होकर सेना की गाड़ी पलट गई। इसमें दो जवान मौके पर ही शहीद हो गये, जबकि तीन जवान गम्भीर रूप से घायल हो गये। घायलों में अभिषेक भी था, जिसे तेजपुर स्थित आर्मी हास्पिटल में भर्ती कराया गया। यह सूचना पाकर पिता रामजन्म यादव और भाई हरिकेश यादव उसे देखने के लिए रविवार 30 मई को असम के लिए रवाना हो गये और 31 मई को असम पहुंचे। यहां पहुंचने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती अभिषेक के पास ले जाया गया। इसके बाद दोनों लोगों को वहां गेस्ट हाउस में ठहराया गया था। इसी बीच मंगलवार की शाम साढ़े सात बजे के करीब उसके मौत की खबर मिली। खबर सुनकर वह बेसुध हो गये। बाद में उन्होंने यह जानकारी अपने गांव में परिजनों को दी। मृत्यु की खबर पाते ही परिजन
रोने बिलखने लगे। हरिकेश ने बताया कि पोस्टमार्टम की कार्रवाई पूरी करने के बाद उसका पार्थिव मिलेगा और इसे लेकर गुरुवार तक घर पहुंचने की संभावना है। उन्होंने बताया कि पिछली बार दिसम्बर 2020 में छुट्टी पर आया था। मई में भी छुट्टी पर आने वाला था, लेकिन कोरोना के चलते छुट्टी निरस्त हो गई थी।अभी वह अविवाहित था। फौजी बेटे की मौत की खबर से मां समावती देवी का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं अपने देवर की मौत पर भाभी उषा और उनके बेटे-बेटियों के रोने बिलखने से समूचे गांव का माहौल गमगीन है। मृतक फौजी दो भाइयों और पांच बहनों में सबसे छोटा था।


Hits: 96

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: