जिला जज सहित प्रशासनिक अधिकारियों ने किया जेल का निरीक्षण, जेल प्रशासन की कसी नकेल

गाजीपुर। जिला कारागार का स्थलीय निरीक्षण जिला जज राघवेन्द्र,जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह, पुलिस अधीक्षक डा.ओम प्रकाश सिंह, सीजेएम सुनील कुमार द्वारा किया गया। निरीक्षण के दौरान जिला जज ने सबसे पहले कारागार चिकित्सालय में भर्ती कैदियों से बीमारियो के सम्बन्ध मे जानकारी ली। उन्होंने अस्पताल मे दवा की उपलव्धता, सेनेटाइजेशन एवं कैदियों का कोविड-19 की जांच के सम्बन्ध मे जानकारी ली। उन्होने सभी को प्रत्येक दशा मे मास्क का प्रयोग करने की सलाह दीं। जेल मे ही एक विकलांग कैदी ने अपने कटे पैर मे आर्टिफिशियल पैर लगवाने की गुहार लगायी जिस पर जिला जज ने जेल अधीक्षक से इस सम्बन्ध मे जानकारी ली। जिसपर जेल अधीक्षक ने बताया कि जिला विकलांग कल्याण विभाग से पत्राचार किया गया है।कृत्रिम पैर प्राप्त होने पर तत्काल उपलव्ध करा दिया जायेगा। निरीक्षण के क्रम में जिला कारागार के हवालात, कार्यालय के स्टाक रजिस्टर की जांच की गयी। इसके पश्चात बारी-बारी से सभी बैरको का निरीक्षण किया गयां। बैरको मे बन्दियो के कार्ड पर अगली पेशी का दिनांक को चेक किया गया। बैरक संख्या दो में एक कैदी द्वारा आंख से कम दिखायी देने की शिकायत पर जिला जज ने उपचार कराने का निर्देश जेल अधीक्षक को दिया। अधीक्षक द्वारा बताया गया कि दवा दिलायी गयी है। दवा के कोर्स पुूरा होने के बाद जिला चिकित्सालय मे इनके आंखो कीे जांच पुनः करायी जायेगीं। कैदियों द्वारा मुलाकात कराने की बात कही गयी,जिस पर बताया गया कि अभी उपर से आदेश नही आया है आदेश आते ही मुलाकात की कार्यवाही की जायेगी। जेल के अन्दर बिल्डिग, दीवार तथा चहार दीवारी के खराब स्थिति को देखते हुए जिलाधिकारी ने जेल अधीक्षक को निर्देश दिया कि
इसे लोक निर्माण विभाग के अभियन्ता से सर्वे कराया जाये। कारागार में रसोई घर के निरीक्षण में आज दिन में बनने वाले भोजन के मीनू की जानकारी ली गयी। बताया गया कि आज दाल, रोटी, चावल तथा आलू कोहड़ा की सब्जी बनायी गयी है। जिला जज ने प्रत्येक दिन के मीनू को रजिस्टर मे दर्ज करने का निर्देश दिया। किचेन मे सब्जी एवं दाल की गुणवत्ता ठीक न होेने पर किचेन प्रभारी के प्रति नाराजगी व्यक्त कर गुणवत्ता मे सुधार करने का निर्देश दिया। रोटी बनाने की आटोमेटिक दोनो मशीन खराब होने पर जिला जज ने प्रभारी किचेन को इसे तत्काल ठीक कराने का निर्देश दिया। पुलिस अधीक्षक ने जेल अधीक्षक को निर्देश दिया कि जेल के अन्दर किसी भी दशा मे मोबाइल का प्रवेश न होनेपाये इस हेतु रोस्टर बनाकर चेंकिग अभियान चलाकर चेक किया जाये। उन्होंने महिला बन्दी गृह मे दी जा रही सुविधाओ के बावत जानकारी ली। जिला जेल मे लगे कई
सी0सी0 कैमरा खराब होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल इसे ठीक/चालू कराने का निर्देश दिया। निरीक्षण के दौरान अपर पुलिस अधीक्षक (शहर) गोपी नाथ सोनी,क्षेत्राधिकारी सदर ओजस्वी चावला, जेल अधीक्षक एवं अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।


Hits: 25

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: