सुहेलदेव महाराज सच्चे राष्ट्र भक्त

गाजीपुर। राजभर समाज का इतिहास गौरव शाली रहा है पर चाटुकार इतिहासकारों ने सुहेलदेव के इतिहास को सही ढंग से प्रस्तुत नही किया, जबकि इतिहास गवाह है कि सुहेलदेव महाराज सांस्कारिक और गौ भक्त देशभक्त थे।उक्त वक्तव्य भारतीय राजभर समाज द्वारा रविवार को शादियाबाद मेेें
आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने व्यक्त किया। कार्यक्रम का शुभारंभ महाराज सुहेलदेव के प्रतिमा पर मालार्पण कर दीप प्रज्वलित कर किया गया।
उन्होंने कहा कि महाराज सुहेलदेव ने अपने साम्राज्य की रक्षा के लिए विदेशी आक्रांताओं को ऐसा सबक सिखाया की 175 वर्षो तक दोबारा उनके राज्य की तरह किसी दुश्मन ने आंख उठा कर नही देखा। यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में ऐसी सरकार चल रही है जो अति पिछड़े लोगो के विकास और उनके उत्थान के लिए समर्पित है। उनकी ही देन है कि आज इस समाज के आदर्श के नाम सुहेलदेव एक्सप्रेस ग़ाज़ीपुर से दिल्ली चल रही है और 25 मार्च को राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के उपस्थिति में सुहेलदेव के नाम डाक टिकट जारी होंगा। विशिष्ट अतिथि अनिल राजभर होमगार्ड मंत्री अनिल राजभर ने कहा अपना नेता और अपनी पार्टी को पहचानिये जो आपके समाज का विकास कर सकें। अपने समाज की प्राथमिकता है कि रोटी, कपड़ा और मकान मिल सकें। जिसको लेकर मोदी सरकार दृढ़ निश्चय है और आने वाले 2022 तक सबके पास अपना मकान होंगा। उन्होंने कहा कुछ लोग अपने समाज को बरगलाने का काम कर रहे है और अपने परिवार के लोगों को सांसद-मंत्री बनाने के चक्कर मे लगे है।वे शायद भूल गए है कि सभी दलों को आजमाने के बाद विधानसभा में पहुँचने का सौभाग्य भाजपा के नरेंद्र मोदी की नेतृत्व में ही मिला। कुछलोग राजभर समाज को जागीर समझ रहे है जबकि समाज के नेताओ को मिलकर राजभर समाज के उत्थान की बात सोचनी चाहिये। घोसी सांसद हरिनारायण राजभर ने कहा कि अगर अपने समाज को अग्रणी श्रेणी में लाना है तो अपनी ताकत और क्षमता को प्रदर्शित करना होंगा ।अपने पूर्वजो के मान सम्मान के साथ वीरगाथा को जानना होंगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी राजभर समाज के उत्थान के लिए तत्पर है। कार्यक्रम में अतिथियों को आयोजकों द्वारा मुकुट, तलवार और स्मृति चिन्ह भेट कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से भाजयुमो जिलाध्यक्ष राजेश भारद्वाज, अवधेश राजभर,प्रमोद वर्मा, अमित यादव प्रेमसागर राजभर, अनिल राजभर, इतवारी राजभर, हँसराज राजभर, बब्बन राजभर, राणा राजभर, धर्मवीर राजभर, श्रीपत राजभर, विपिन सिंह सहित जिले के पदाधिकारी एवम भारी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे। संचालन मुराहू राजभर एवं अध्यक्षता रघुवर दयाल राजभर ने किया।


Hits: 10

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: