हिन्दी को समृद्ध बनाने के लिए बोलचाल में अंग्रेजी शब्दों के इस्तेमाल पर लगाये रोक

गाजीपुर, 14 सितम्बर 2019। वेलफेयर क्लब के तत्वाधान में आज हिंदी दिवस के अवसर पर प्रधान कार्यालय पर गोष्ठी आयोजित कर हिन्दी की व्यापकता पर विस्तार से चर्चा की गयी। वक्ताओं ने कहा कि हिन्दी आज विश्व के तमाम देशों में बोली जाती है,फिर भी हिंदी भाषा को अपने देश में और ज्यादा विकसित करने की आवश्यकता है। क्लब अध्यक्ष डा० शरद कुमार वर्मा ने कहा कि यह हिंदी का दुर्भाग्य ही कहा जायेगा कि इतनी समृद्ध भाषा होने के बाबजूद आज हिंदी लिखते व बोलते वक़्त ज्यादातर लोग अंग्रेजी भाषा के शब्दों का इस्तेमाल बोलचाल में कर रहे हैं। ऐसे में हिंदी दिवस का मनाना बेहद जरुरी है ताकि लोगो को यह याद रहे कि हिंदी उनकी राजभाषा है और उसका सम्मान व प्रचार प्रसार करना उनका नैतिक कर्तव्य है, हिंदी दिवस मनाने का मतलब यही है लोगो को यह बताया जाये कि जब तक वे इसका पूरी तरह से इस्तेमाल नहीं करेंगे तब तक इस भाषा का पूर्ण विकास संभव नहीं है । क्लब सचिव अभिषेक सिंह ने जानकारी दी कि भारत में हिंदी दिवस 14 सितम्बर को इसलिए मनाया जाता है क्योंकि 1949 में इसी दिन सविंधान सभा ने हिंदी को भारतवर्ष में आधिकारिक भाषा का दर्ज़ा दिया। हिंदी को राजभाषा बनाया गया। 26 जनवरी, 1950 को लागू सविंधान में इस पर मुहर लगाई गई। जनपद गवर्नर पवन पाण्डेय ने बताया कि कई लोग अपने सामान्य बोलचाल में भी अंग्रेज़ी भाषा के शब्दों का उपयोग करते हैं, जिससे हिन्दी भाषी क्षेत्रों में धीरे धीरे हिन्दी के अस्तित्व को खतरा पहुँच रहा है। यहाँ तक कि वाराणसी में स्थित दुनिया में सबसे बड़ी हिन्दी संस्था आज बहुत ही खस्ता हाल में है। इस कारण इस दिन उन सभी से निवेदन किया जाता है कि वे अपने बोलचाल की भाषा में भी हिन्दी का ही उपयोग करें। इसके अलावा लोगों को अपने विचार आदि को हिन्दी में लिखने भी कहा जाता है। चूंकि हिन्दी भाषा में लिखने हेतु बहुत कम उपकरण के बारे में ही लोगों को पता है, इस कारण इस दिन हिन्दी भाषा में लिखने, जाँच करने और शब्दकोश के बारे में जानकारी दी जाती है। हिन्दी भाषा के सर्वांगीण विकास के लिए सभी को एक जुट होकर हिन्दी के विकास को नए आयाम तक पहुँचाना होगा। हिन्दी भाषा के विकास और विलुप्त होने से बचाने के लिए यह अनिवार्य है।
इस अवसर पर क्लब उपाध्यक्ष धीरेन्द्र त्रिपाठी, सूर्य रेख मणि, एड० चन्द्रिका प्रसाद, धर्मेन्द्र कुमार, पवन कुमार पाण्डेय, डा० जितेन्द्र कुमार, मनोज दूबे, अजय यादव, प्रमोद बिन्द, अविनाश, राहुल प्रताप मिश्र, राम कुमार विश्वकर्मा, नौशाद अहमद आदि उपस्थित रहे । गोष्ठी की अध्यक्षता क्लब अध्यक्ष डा० शरद कुमार वर्मा ने की।

Hits: 25

Author: Dr. A. K Rai

Leave a Reply