आक्रोश ! अनदेखी से क्षुब्ध दिव्यांगों ने काटा बवाल, एसडीएम के लिखित आश्वासन पर माने

गाजीपुर, 08 जुलाई 2019। शासन की जन कल्याणकारी योजनाओं में हो रही अपनी उपेक्षा से क्षुब्ध जनकल्याण विकलांग सेवा समिति और सर्व समाज विकास मंच के तत्वावधान में जिलाधिकारी कार्यालय धरना प्रदर्शन करने जा रहे दिव्यांगों को पुलिस ने हंसराजपुर बाजार में जबरन रोकने का प्रयास किया, जिससे क्षुब्ध दिव्यांगजन डीएम कार्यालय जाने पर अड़े रहे। इसकी जानकारी पर उपजिलाधिकारी जखनियां अभय कुमार मिश्रा, सीओ भुड़कुड़ा व थानाध्यक्ष शादियाबाद मय फोर्स मौके पर पहुँचे। उप जिलाधिकारी के काफी प्रयास के बाद दिव्यांग जन पुलिस चौकी हंसराजपुर में चलकर अपनी समस्या बताने के लिए राजी हुए। पुलिस चौकी पहुचते ही सारे दिव्यांग जमीन पर जा बैठे। बाद में उपजिलाधिकारी के कहने के बाद वे कुर्सी पर बैठे।
दिव्यांगों ने प्रदेश एवं केन्द्र सरकार द्वारा संचालित योजनाओं जैसे आवास, शौचालय, प्रधानमंत्री जन आरोग्य, आयुष्मान भारत योजना एवं जिले भर में विकलांग कोटा के तहत दिव्यांगों को राशन कोटा की दुकानें प्रतिशत के आधार पर न दिये जाने सहित मांगो से उपजिलाधिकारी को अवगत कराया। एसडीएम ने एडीओ पंचायत मनिहारी अरुण कुमार दूबे एवं एडीओ पंचायत सादात को बुलाकर इनकी मांगो को तत्काल निस्तारण करने का आदेश दिया। उन्होंने जिलाधिकारी से मोबाइल से बात कर इनकी मांगपत्रो से अवगत कराया। जिलाधिकारी के. बालाजी ने मुख्य विकास अधिकारी को इनका मांगपत्र पर एक महीने के अंदर निस्तारण करने का आदेश दिया। इसके बाद दिव्यांगों की मांग पर एसडीएम ने एक महीने के अंदर निस्तारण करने की लिखित आश्वासन दिया।
इस अवसर पर कमलेश राम, रामविजय चौहान, मीना सिंह, शिवप्रसाद विश्वकर्मा, त्रिवेणी राम, घनश्याम चौहान, मंतीदेवी, हरेन्द्र चौहान, तेतरी देवी, दिनेश, फिरोज, मुन्नी लाल, सतीश आदि दिव्यांग उपस्थित रहे।

Hits: 21

Author: Dr. A. K Rai

Leave a Reply