ट्विंकल हत्याकांड ! श्रद्धांजलि सभा में हत्यारों को उठी फांसी की सजा की मांग

गाजीपुर (उत्तर प्रदेश),9 जून 2019।बर्बरता से अमानवीय,निर्मम कृत्यों की शिकार अलीगढ़ के टप्पल की ढाई वर्षीय ट्विंकल हत्याकांड को लेकर जनपदवासियों की भावनाएं लगातार आक्रोश में है। इस घटना से आहत लोगों ने ट्विकंल के हत्यारों को फांसी की सजा की हिमाकत करते हुऐ विश्वकर्मा समाज के द्वारा आयोजित सार्वजनिक शान्ति यात्रा मे भाग लिया।
यह यात्रा गाजीपुर सिटी रेलवे स्टेशन से आरम्भ होकर गाजीपुर जिला मुख्यालय स्थित सरजू पांडेय पार्क पहुंच कर श्रद्धांजलि सभा में परिवर्तित हो गयी,जहां ट्विंकल के चित्र पर पुष्प अर्पित कर लोगों ने भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित किया।
श्रद्धांजलि सभा को सम्बोधित करते हुए शशिकान्त शर्मा ने कहा कि घटना के दोषी विकृत कुत्सित मानसिकता के लोग हैं जिनको समाज व परिवार मे रहकर जिन्दगी जीने का कोई हक नहीं है। कहा कि इस देश की इस बेटी की शहादत से समाज, शासन तथा प्रशासन के लोगों को सिखना व समझना जरूरी है ताकि फिर से किसी मासुम को अस्मत,मान,सम्मान व असमय जान को गवाना न पड़े।
राकेश यादव ने कहा कि समाज मे ऐसी घटनाओं से लोगों मे अविश्वास तथा भय का माहौल व्याप्त होता है। बालिकाओं मे दहशत को बढ़ावा मिलेगा। शासन ने तो अपराधियों के खिलाफ त्वरित कार्यवाही करते हुए दोषियों को तो गिरफ्तार कर लिया। अब कानून को भी अपना काम वरियता से करके दोषियों को सजा जल्द से जल्द मुकर्रर करना चाहिए, ताकि ऐसे अपराध करने की कोई हिम्मत न दिखा सके।
अपने सम्बोधन में लालसा भारद्वाज ने कहा कि इस बालिका के साथ दुर्व्यवहार के ऐसे अपराधियों के प्रति समाज की कोई सहानुभूति नहीं होनी चाहिए। कार्यक्रम मे प्रमोद विश्वकर्मा, किशन शर्मा, सुनिल शर्मा, वीभा पाल, रंजू शर्मा, पूनम मौर्य, साधना यादव,बुच्ची बिंद,रोली शर्मा, प्रमोद राय,वीर बहादुर शर्मा,आजाद कुमार सिंह, प्रियंका सिंह, विजय शर्मा, अनुराग राय,निलेश यादव, आशुतोष यादव,संजय चौरसिया, चंदन यादव,राजकुमार विश्वकर्मा सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित रहे।

इसी क्रम में अलीगढ़ के टप्पल में तीन साल की बच्ची के साथ हुई वहशियाना वारदात के बाद पैदा तनावपूर्ण हालात में आज मौके पर जा रही साध्वी प्राची को प्रशासन ने रोक दिया।वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुलहरि ने रविवार को बताया कि साध्वी प्राची टप्पल जाना चाहती थी मगर वहां के हालात को देखते हुए उन्हें सीमा पर ही रोक लिया गया।
मालूम हो कि गत 30 मई को टप्पल क्षेत्र में लापता ढाई साल की एक बच्ची का शव दो जून को कूड़े के ढेर में दबा पाया गया था। कथित रूप से धन के लेन—देन के विवाद को लेकर हुई इस वारदात में जाहिद, असलम, शगुफ्ता और मेंहदी हसन नाम के लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

रिपोर्ट – शशिकांत शर्मा

Hits: 37

Author: Dr. A. K Rai

Leave a Reply