चन्द्र ग्रहण 31 जनवरी को

गाजीपुर (उत्तर प्रदेश)।28 जनवरी 2018•• वर्ष का पहला चन्द्रग्रहण इस वर्ष माघ महीने में होने वाला है। इस साल पांच ग्रहण होंगे,जिसमें से 3 सूर्य ग्रहण और 2 चंद्र ग्रहण हैं। पहला चंद्रग्रहण माघ महीने यानि जनवरी की 31 तारीख को है। यह पूर्ण चंद्रग्रहण 77 मिनट तक रहेगा। इसका समय शाम 5.58 मिनट पर शुरू हो रहा है।जो रात 8.41 तक चलेगा।ज्योतिषों और पंडितों के अनुसार यह माना जाता है कि इस कुछ काम नहीं करने चाहिए।


।। क्या है चंद ग्रहण ।।
जब पृथ्वी, सूर्य और चंद्रमा के बीच आ जाती है , तब वह चंद्रमा पर पड़ने वाली सूर्य की किरणों को रोकती है और उसमें अपनी छाया बनाती है।इस घटना को चंद्र ग्रहण कहा जाता है।

।। क्या होता है ग्रहण ।।
एक पौराणिक कथा के अनुसार एक बार समुद्र मंथन के दौरान असुरों और दानवों के बीच अमृत के लिए घमासान चल रहा था। इस मंथन में अमृत देवताओं को मिला लेकिन असुरों ने उसे छीन लिया।अमृत को वापस लाने के लिए भगवान विष्णु ने मोहिनी नाम की सुंदर कन्या का रूप धारण किया और असुरों से अमृत ले लिया।जब वह उस अमृत को लेकर देवताओं के पास पहुंचे और उन्हें पिलाने लगे तो राहु नामक असुर भी देवताओं के बीच जाकर अमृत पीने के लिए बैठ गया।जैसे ही वो अमृत पिया, सूर्य और चंद्रमा को भनक हो गई कि वह असुर है, तुरंत उससे अमृत छिना गया और विष्णु जी ने अपने सुदर्शन चक्र से उसकी गर्दन धड़ से अलग कर दी। वो अमृत पी चुका था इसीलिए वह मरा नहीं, उसका सिर और धड़ राहु और केतु नाम के ग्रह पर गिरकर स्थापित हो गए।ऐसी मान्यता है कि इसी घटना के कारण सुर्य और चंद्रमा को ग्रहण लगता है। इसी वजह से उनकी चमक कुछ देर के लिए चली जाती है।वहीं, इसके साथ यह भी माना जाता है कि जिन लोगों की राशि में सुर्य और चंद्रमा मौजूद होते हैं उनके लिए यह ग्रहण बुरा प्रभाव डालता है। वहीं, विज्ञान के अनुसार यह एक प्रकार की खगोलीय स्थिति है, जिनमें चंद्रमा, पृथ्वी और पृथ्वी तीनों एक ही सीधी रेखा में आ जाते हैं।इससे चंद्रमा पृथ्वी की उपछाया से होकर गुजरता है, जिस वजह से उसकी रोशनी फिकी पड़ जाती है।

Hits: 4

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: