इनामियां शातिर अपराधी चढा़ पुलिस के हत्थे

गाजीपुर(उत्तर प्रदेश),18 जनवरी 2018। बिरनो थाना पुलिस ने गुरुवार को प्रातः लगभग 4 बजे क्षेत्र के इनामियां अपराधी को भवरहां पुलिया के पास से धर दबोचा। पुलिस सूत्रों के हवाले से बताया गया कि थानाध्यक्ष बिरनों हमराहियों के साथ रात में क्षेत्र भ्रमण पर थे, तभी बजरिया मुखबीर सूचना मिली कि क्षेत्र का शातिर लुटेरा और हत्यारा इनामियां अपराधी भंवरहां पुलिया के पास अंधेरे में ही कहीं जाने को तैयार है। मुखबिर की सूचना पर पुलिस जल्दी से भवरहां की ओर चल दी। काफी पहले ही वाहन को सड़क किनारे को छोड़कर पुलिस पैदल ही पुलिया की तरफ चल पड़ी। अंधेरे में जब पुलिस उसके नजदीक पहुंचकर टॉर्च की रोशनी उस पर डाली। अचानक अपने सामने पुलिस को देख भागा पर चौकन्नी पुलिस ने उसे दौड़ा कर पकड़ लिया। गिरफ्तार व्यक्ति की पहचान नगीना मुसहर पुत्र जगन्नाथ उर्फ बुधई मुसहर मूलनिवासी शेरमठ थाना करीमुद्दीनपुर हाल मुकाम भड़सर, बगिया, थाना बिरनो के रूप में हुई।पुलिस के अनुसार गिरफ्तार नगीना एक शातिर अपराधी है जिस पर चोरी, लूट व हत्या के कई अपराधिक मामले दर्ज हैं। उसकी गिरफ्तारी पर पुलिस ने 15000 रु.का इनाम भी घोषित कर रखा था।नगीना मुसहर गाजीपुर के अलावा बलिया,मऊ तथा आजमगढ़ क्षेत्र में भी कई आपराधिक वारदात कर चुका है। पुलिस पूछताछ में नगीना ने बताया कि वह अपने साथियों के साथ सात अगस्त 2016 की रात बिरनोंं क्षेत्र के कहोतरी मोड़ पर स्थित पलक ज्वेलर्स की दुकान से तिजोरी चुरा कर पीछे खेत में ले जाकर तोड़ रहे थे, तभी बगल का चाय दुकानदार मंगला गौड़ पेशाब करने पीछे खेत की तरफ आया। हम लोगों को तिजोरी तोड़ता देख कहा कि मैं तुम सबको पहचान रहा हूं। सवेरे सबको बता दूंगा। इस पर हमने अपने साथियों के साथ मिलकर राड, डंडे से मार कर उसकी हत्या कर दी थी। पुलिस ने बताया कि 2011 में चोरी करते समय विरोध करने पर नगीना ने विरनों क्षेत्र के लीलापुर निवासी सुदर्शन राम की हत्या की थी ,जिसमें बाद में वह जेल भी गया था।गिरफ्तार करनेवाली पुलिस टीम में थानाध्यक्ष धर्मवीर सिंह, आरक्षी रोहित कुमार, नागेंद्र प्रसाद यादव, नसीमुद्दीन, मोहम्मद हुमायूं, दिनेश कुमार व रुस्तम हुसैन शामिल रहे।


Hits: 13

Advertisements

Leave a Reply

%d bloggers like this: